लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Ayodhya ›   The government will now forcibly take the remaining land of the airport

Ayodhya Airport: अयोध्या में एयरपोर्ट के लिए जबरन ली जाएगी 25 एकड़ जमीन, किसानों से नहीं बन सकी सहमति

राजेंद्र कुमार पांडेय, अमर उजाला, अयोध्या Published by: लखनऊ ब्यूरो Updated Fri, 23 Sep 2022 02:39 PM IST
सार

किसानों से सहमति न बन पाने के कारण अयोध्या में बनने वाले मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीरामचंद्र अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट के लिए जमीन का अधिग्रहण नहीं हो सका है। अब इसके लिए जबरन जमीन ली जाएगी। जिला प्रशासन ने शासन को पत्र भेज दिया है।

एयरपोर्ट का मॉडल।
एयरपोर्ट का मॉडल। - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीरामचंद्र अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट की अवशेष जमीन खरीद के लिए किसानों से सहमति नहीं बन पाई। जिला प्रशासन ने ऐसी लगभग 25 एकड़ जमीन के अधिग्रहण के लिए दो दिन पहले शासन को प्रस्ताव भेज दिया है। शासन से अनुमति मिलने के बाद एयरपोर्ट के लिए इस जमीन के अधिग्रहण की कार्रवाई शुरू होगी। एयरपोर्ट का निर्माण एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया को करना है।



मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीरामचंद्र अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के लिए कुल लगभग 821 एकड़ जमीन की जरूरत है। इसमें से एयर स्ट्रिप की लगभग 213 एकड़ जमीन पहले से मौजूद है। 108 एकड़ जमीन ग्राम समाज या दूसरी तरह की जमीन है।  जो प्रदेश सरकार को देनी है। लगभग पांच सौ एकड़ जमीन निजी काश्तकारों से ली जानी थी। इसमें से अब तक करीब 475 एकड़ जमीन मिल गई है। शेष करीब 25 एकड़ जमीन के लिए प्रशासन तमाम कवायद के बाद भी किसानों को नहीं तैयार कर पाया।

किसानों से जमीन सहमति के आधार पर लेनी की कार्रवाई अब से लगभग दो साल पहले शुरू की गई थी। हालांकि तब एयरपोर्ट के लिए कुछ कम जमीन की जरूरत थी। बाद में जब इसका स्वरूप अंतर्राष्ट्रीय किया गया तो ज्यादा जमीन की जरूरत पड़ी।

मायावती का सवाल: मोहन भागवत के खुद को उलेमाओं से राष्ट्रपिता कहलवाने से क्या बदल जाएगा बीजेपी का नजरिया

Ayodhya News: बाहुबली अभय-खब्बू फिर आमने-सामने, एक-दूसरे पर लगाया हत्या की साजिश का आरोप

एयरपोर्ट से सटे कुछ अन्य गांवों की जमीनें इसके दायरे में आ गई। एडीएम वित्त एवं राजस्व महेंद्र कुमार सिंह ने बताया कि खरीद से अवशेष बची 25 एकड़ जमीन के अधिग्रहण के लिए अब शासन को प्रस्ताव भेजा है। जिला प्रशासन ने किसानों से सहमति के आधार पर जमीनों की खरीद और उसकी रजिस्ट्री की प्रक्रिया शुरू की। अब तक लगभग 96 फीसदी जमीन (करीब 475 एकड़) की खरीद हो चुकी है लेकिन लगभग 25 एकड़ जमीन की खरीद अटक गई है। इसमें तीन गांव की जमीनें बताई गई हैं। इसमें गंजा गांव में करीब 12 एकड़, कुशमाहा गांव में लगभग तीन एकड़, धर्मपुर सहादत में दो एकड़ और जनौरा में लगभग आठ एकड़ जमीन खरीद के लिए अवशेष है।
विज्ञापन

Deepotsav Ayodhya 2022: दीपोत्सव को ऐतिहासिक बनाने योजना तैयार, सात देशों की होगी रामलीला

तहसीलदार सदर आरके पांडेय ने बताया कि इनके अधिग्रहण के लिए प्रस्ताव जिलाधिकारी की ओर से भेजा गया है। एयरपोर्ट के लिए जमीन न देने के कई कारण बताए गए हैं। कुछ किसानों ने जमीन का मूल्य कम होने के कारण देने से इनकार कर दिया। कुछ पर विवाद की स्थिति है। वहीं जनौरी की करीब 7-8 एकड़ जमीन ऐसी बताई गई है जिसके मालिकान मॉरीशस सहित दूसरे देशों में रहते हैं। एयरपोर्ट का निर्माण तेजी से किया जा रहा है। एयर स्ट्रिप और टर्मिनल का निर्माण नए साल तक पूरा कराए जाने का लक्ष्य है। कोशिश है कि अयोध्या में श्रीराम मंदिर में राम लला के विराजमान होने तक यहां से उड़ाने शुरू कर दी जाएं। अयोध्या का अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट मंदिरों की नगरी के अनुरूप होगा। इसका डिजाइन भी मंदिर के आकार का बनाया गया है। इसी के आधार पर निर्माण करने की बात कही जा रही है। इसके साथ ही एयरपोर्ट तक पहुंचने के लिए फोरलेन सड़क अयोध्या-प्रयागराज मार्ग से बनाई जाएगी।

मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीरामचंद्र अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट
कुल जमीन की जरूरत 821 एकड़
पहले से मौजूद एयर स्ट्रिप की जमीन 213 एकड़
ग्राम समाज की या अन्य भूमि(सरकार को देनी है) 108 एकड़
किसानों से अब तक मिली जमीन 475 एकड़

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00