लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   Technology ›   Social Network ›   Jack Dorsey admitted that those who work for the social media giant are more left leaning

हंगामा क्यों है बरपा: क्या वाकई वामपंथी विचार की होती हैं टेक कंपनियां, ट्विटर के सीईओ से सुनिए सच

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: प्रदीप पाण्डेय Updated Sat, 05 Jun 2021 06:01 PM IST
सार

जैक डॉर्सी ने यह इंटरव्यू उस वक्त दिया था जब टेक कंपनियों पर सार्वजनिक विचारों को प्रभावित करने का विवाद चल रहा था। उस दौरान एपल से लेकर स्पॉटिफाई तक ने दक्षिणपंथी टॉक शो होस्ट और सिद्धांतकार एलेक्स जोन्स के खिलाफ उनकी अभद्र भाषा को लेकर एक्शन लिए थे।

Jack Dorsey
Jack Dorsey - फोटो : amarujala

विस्तार

5 जून 2021 को पूरे दिन भारत में भारत सरकार बनाम ट्विटर की लड़ाई चली है। उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू समेत कई आरएसएस नेताओं के निजी हैंडल को अनवेरिफाइड करके ब्लू टिक को हटा दिया था। विरोध और बवाल के बाद ट्विटर ने वेंकैंया नायडू और मोहन भागवत सहित कई अन्य नेताओं के ट्विटर अकाउंट पर ब्लू टिक वापस कर दिया। मोदी सरकार और ट्विटर की लड़ाई पिछले साल से ही चल रही है। इस साल फरवरी में एक विवाद के बाद ट्विटर इंडिया की पब्लिक पॉलिसी डायरेक्टर (इंडिया एवं साउथ एशिया) महिमा कौल ने अपने पद से इस्तीफा दिया था। सोशल मीडिया पर कई लोग ट्विटर को मोदी विरोधी बताते हैं। मोदी सरकार से पहले ट्विटर अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपित डोनाल्ड ट्रंप से भी उलझ चुका है और मोदी-ट्रंप की दोस्ती जगजाहिर है। 



सीईओ ने कहा- मैं लेफ्ट विचारधारा का व्यक्ति हूं
पिछले साल डोनाल्ड ट्रंप से विवाद के ट्विटर के सीईओ जैक डॉर्सी ने एक इंटरव्यू में स्वीकार किया था कि जो लोग सोशल मीडिया दिग्गज के लिए काम करते हैं, उनके अपने पूर्वाग्रह हैं और उनका झुकाव वामपंथ की ओर अधिक है, हालांकि उन्होंने सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में कहा था कि उनकी विचारधारा निजी और उससे उनकी कंपनी की पॉलिसी प्रभावित नहीं होती है।


उस इंटरव्यू में डॉर्सी से एक और सवाल पूछा गया कि क्या राजनीति को लेकर उनकी कोई विचारधारा है जिससे प्रभावित होकर ट्विटर फैसले लेता है? इस सवाल के जवाब में जैक डॉर्सी ने कहा कि नहीं, ट्विटर राजनीतिक चश्मे से फैसले नहीं लेता है, बल्कि कंटेंट के लिहाज से फैसले लिए जाते हैं और उसी के आधार पर किसी ट्वीट पर कार्रवाई होती है।
 

उन्होंने आगे कहा, 'हमें यह लगातार बताने की जरूरत है कि हम अपना पूर्वाग्रह किसी पर थोप नहीं रहे हैं, जिसे मैं पूरी तरह से वामपंथी झुकाव मानता हूं। मुझे लगता है कि हमारे अपने पूर्वाग्रह को स्पष्ट करना और इसे लोगों के साथ साझा करना महत्वपूर्ण है ताकि लोग हमें समझें, लेकिन साथ ही हमें अपने काम करने के तरीके और अपनी नीतियों से अपने पूर्वाग्रह को अलग रखने की भी जरूरत है।'
विज्ञापन

जैक डॉर्सी ने यह इंटरव्यू उस वक्त दिया था जब टेक कंपनियों पर सार्वजनिक विचारों को प्रभावित करने का विवाद चल रहा था। उस दौरान एपल से लेकर स्पॉटिफाई तक ने दक्षिणपंथी टॉक शो होस्ट और सिद्धांतकार एलेक्स जोन्स के खिलाफ उनकी अभद्र भाषा को लेकर एक्शन लिए थे। Spotify, Facebook और YouTube ने जोन्स को ब्लॉक कर दिया था, जबकि एपल ने जोन्स की वेबसाइट Infowars के अधिकतर पॉडकास्ट को iTunes और पॉडकास्ट एप से डिलीट कर दिया था। ट्विटर ने भी जोन्स के अकाउंट को सस्पेंड कर दिया था।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all Tech News in Hindi related to live news update of latest gadgets News apps, tablets etc. Stay updated with us for all breaking news from Tech and more Hindi News.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00