राजस्थान चुनाव: कांग्रेस पर बरसे पीएम मोदी, राम मंदिर पर सुनवाई टालने की मंशा को लेकर घेरा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, अलवर Updated Sun, 25 Nov 2018 12:53 PM IST
विज्ञापन
नरेंद्र मोदी
नरेंद्र मोदी - फोटो : Amar Ujala Graphic

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राजस्थान में होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए आज प्रचार करने अलवर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस को निशाने पर लेते हुए अयोध्या मुद्दे का भी जिक्र किया। रैली में मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, केन्द्रीय मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष मदनलाल सैनी सहित अन्य नेता मौजूद थे। बता दें कि अलवर संसदीय सीट पर इस साल के शुरू में हुए लोकसभा उपचुनाव में भाजपा को हार का सामना करना पड़ा था। 
विज्ञापन

क्या-क्या कहा पीएम ने पढ़ें- 
50 साल में कांग्रेस सरकारों ने जितने मेडिकल कॉलेज खोले हैं उतने ही मेडिकल कॉलेज वसुंधरा राजे जी ने 5 साल में खोल दिए। आप तय कीजिए 50 इंतजार करना है या 5 साल में काम पूरा करने वाली वसुंधरा सरकार चाहिए। वर्ष पहले जब कांग्रेस की सरकार थी तो एक दिन में 12 किलोमीटर हाईवे बनते थे, आज लगभग 27 किलोमीटर हाईवे एक दिन में बनते हैं और राजस्थान में तो 4 गुना स्पीड से राजे जी ने काम करके दिखाया है।
प्रधानमंत्री ने कहा, कांग्रेस में तो हर गली-मोहल्ले में मुख्यमंत्री पद के दावेदार हैं। उनकी पूरी पार्टी मुख्यमंत्री पद पर इतना कन्फ्यूज है, उनके नेता इतने कन्फ्यूज हैं, तो पार्टी फूल नहीं तो क्या होगी।

पीएम मोदी ने कहा, 'कांग्रेस पार्टी का अहंकार समस्या की जड़ में है, वे लोकतंत्र को स्वीकार नहीं करते, वे पराजय को स्वीकर नहीं करते, वे जनता-जनार्दन के आदेश को नहीं मानते। वो तो मान के बैठे हैं ये गद्दी उनके परिवार के नाम लिखी हुई है, इस पर दूसरा कोई आ ही नहीं सकता।'

पीएम ने कहा, कांग्रेस के लोग सुप्रीम कोर्ट में जाकर बोल रहे हैं कि राम मंदिर केस की सुनवाई 2019 से पहले नहीं होनी चाहिए। जब अयोध्या का केस चल रहा था, कांग्रेस के नेता राज्यसभा के सदस्य कहते हैं कि 2019 तक केस मत चलाओ क्योंकि 2019 में चुनाव हैं। देश के न्यायतंत्र को इस प्रकार से राजनीति में घसीटना उचित है क्या?

प्रधानमंत्री ने कहा, मुझे विश्वास है कि पहले की तरह फिर एक बार राजस्थान की जनता यहां नया इतिहास लिखने वाली है। फिर एक बार भाजपा की सरकार बनने वाली है। हमें वोट विकास के आधार पर चाहिए, हमें हमारे काम के आधार पर वोट चाहिए।

पीएम मोदी ने कहा, कांग्रेस पार्टी का संस्कार देखिये, जो माओवादी और नक्सली निर्दोष लोगों को मौत के घाट उतारते हैं, गांव के स्कूलों को जला देते हैं। ऐसे लोगों को कांग्रेस के नेता क्रांतिकारी कहते हैं।

पीएम ने कहा, अरे जब भारत का मुखिया जाता है तो दुनिया को मोदी नहीं दिखता है, ना ही मोदी की जात दिखती है, दुनिया को सवा सौ करोड़ हिन्दुस्तानी दिखते हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, चार-चार पीढ़ी तक ने जिस पार्टी ने देश पर राज किया है, उनसे पूछना चाहता हूं, जब दुनिया के किसी देश में भारत का मुखिया जाता है तो क्या दुनिया उसकी जात पूछती है

पीएम मोदी ने कहा, राजस्थान में कांग्रेस के नेता भारत माता की जय बोलने की बजाए सोनिया गांधी की जय बोलने के लिए कह रहे हैं। कांग्रेस पार्टी के लिए भारत माता से बड़ी भी कोई और माता है। आज हमारी रणनीति ने उनके हाथ में कटोरा थमा दिया है।

पीएम ने कहा, कांग्रेस पार्टी के लिए भारत माता से भी बड़ी कोई और माता हैं। हमारे लिए तो दल से बड़ा देश है। दल तो आएंगे-जाएंगे, ये देश अगर अमर है तो हमारी भावी पीढ़ियां इस पर गौरव करेंगी।

प्रधानमंत्री ने कहा, संत रविदास ने कहा है- जो हरि को भजे सो हरि का होय, जो किसान को भजे वो किसान का होय, जो युवा को भजे वो युवा का हो, जो जनता को भजे वो जनता का होय, जो भारत को भजे वो भारत का होय।

पीएम मोदी ने कहा, भाजपा का मंत्र है 'सबका साथ, सबका विकास' और हमने तो यही संस्कार पाए हैं, गरीब हो, दलित हो, पीड़ित हो, वंचित हो, शोषित हो, किसान हो, महिला हो, गांव का हो, शहर का हो हमारे लिए हर कोई हरि का रूप है

पीएम ने कहा, यह राजस्थान है, यहां की जनता ने भैरोसिंह जी को लगातार दो बार सरकार बनाने का आशीर्वाद दिया है और कांग्रेस को कभी भी पूर्ण बहुमत का आशीर्वाद नहीं दिया। कभी दिया भी तो आधा-अधूरा दिया, क्योंकि उनके प्रति यहां की जनता का मन ही नहीं लगता है।

प्रधानमंत्री ने कहा, कांग्रेस को ये पता होना चाहिए कि ये धरती संत वाल्मीकि की है, वेदव्यास की है, सूरदास की है, कबीर दास जैसे महान संतों की है। जिन्होंने अपनी महान रचनाओं के द्वारा एकता, समरसता और सामाजिक समरसता का संदेश दिया है।

पीएम ने कहा, कांग्रेस की जातिवादी मानसिकता का ही परिणाम है कि जहां-जहां कांग्रेस को सरकार चलाने का मौका मिला है वहां दलितों के नरसंहार हुए हैं। भारत के संतों ने ऋषियों ने भारत को जोड़ा है और कांग्रेस ने देश को तोड़ा है।

प्रधानमंत्री ने कहा, कांग्रेस के नेता कभी मेरी मां को गाली देते हैं, कभी मेरी जाति को लेकर सवाल पूछते हैं, पूरा देश जान गया है कि ये सब नामदार के कहने पर हो रहा है।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us