बिजली, विकास, शिक्षा के लिए 10,500 करोड़

अनिल भारद्वाज/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Sun, 02 Feb 2014 01:07 AM IST
Punjab, Education, Electricity
वित्त वर्ष 2014-15 में पंजाब सरकार का फोकस मुख्य रूप से आधाभूत ढांचा विकास, बिजली क्षेत्र और शिक्षा पर रहेगा।

वित्त विभाग द्वारा 2014-15 के लिए तैयार किए जा रहे वार्षिक योजना प्रस्तावों में इन क्षेत्रों में 10,500 करोड़ का खर्च प्रस्तावित किया जा रहा है।

इसे अंतिम मंजूरी राष्ट्रीय योजना आयोग के साथ होने वाली बैठक में मिलेगी। 2013-14 की योजना में भी उक्त क्षेत्रों पर ही सरकार का ध्यान मुख्य रूप से केंद्रित था।

जानकारी के अनुसार 2014-15 की वार्षिक योजना में शिक्षा के लिए करीब 1600 करोड़ रुपये का प्रावधान किया जा रहा है।

यह राशि स्कूलों में विभिन्न सुविधाओं के स्तर में सुधार सहित छात्र कल्याण से संबंधित योजनाओं पर खर्च होगी।

बिजली क्षेत्र की मद में 3600 करोड़ रुपये रखे जाने पर विचार-विमर्श चल रहा है।

ट्रांसमिशन सिस्टम में सुधार और नए ग्रिडों की स्थापना के लिए यह राशि इस्तेमाल होगी।

प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों में आधारभूत ढांचे की मजबूती अकाली-भाजपा गठबंधन सरकार का प्राथमिक एजेंडा रहा है।

इसी बात को ध्यान में रखकर पीआईडीबी, पुडा, गमाडा, ग्रामीण स्थानीय निकायों और ग्रामीण विकास फंड के लिए करीब 5300 करोड़ रुपये का प्रावधान इस वार्षिक योजना में होने की संभावना है।

शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में योजनाबद्ध तरीके से व्यापक विकास करना ही इन मदों में इतनी राशि रखने का मुख्य उद्देश्य है।

स्वास्थ्य एवं जन स्वास्थ्य के लिए 600 करोड़
2014-15 की योजना में स्वास्थ्य एवं जन स्वास्थ्य के लिए पंजाब सरकार द्वारा करीब 600 करोड़ का प्रावधान किए जाने की उम्मीद है। पिछले वर्ष यह राशि 517 करोड़ थी और इससे संबंधित 18 करोड़ रुपये का एडिशनल बजट भी था।

वार्षिक योजना 2013-14 के प्रावधानों की स्थिति (अभी तक)

मद            बजट        खर्च किए (करोड़ों में)
सामान्य शिक्षा        1407        1041
बिजली            3209        1300
ग्रामीण स्थानीय निकाय    0500        0370
ग्रामीण विकास फंड    0900        0750
ग्रामीण विकास        0271        0115
शहरी विकास        0290        0105
पीआईडीबी        1600        0347
पुडा            0309        0256
गमाडा            0340        0280

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

मोहाली में भूख हड़ताल पर बैठे पेट्रोल पंप मालिक, ये है वजह

पंजाब में हरियाणा और चंडीगढ़ के बराबर टैक्स किए जाने की मांग को लेकर मोहाली में पेट्रोल पंप के मालिकों ने भूख हड़ताल शुरू कर दी है। प्रदर्शनकारियों का कहना है कि पंजाब में ज्यादा टैक्स वसूले जाने की वजह से व्यापार को नुकसान झेलना पड़ा है।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls