लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

साड़ी नॉट सॉरी: साड़ी की वजह से महिला को रेस्टोरेंट ने नहीं दी एंट्री, ऋचा चड्ढा ने सोशल मीडिया पर जमकर लगाई क्लास

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: विजयाश्री गौर Updated Thu, 23 Sep 2021 05:41 PM IST
ऋचा चड्ढा
1 of 5
विज्ञापन
सोशल मीडिया पर अक्सर ऐसे वीडियोज देखने को मिल जाते हैं जिनसे समाज में छिपी गंदगी भी साफ नजर आ जाती है और लोगों को सच का पता चलता है। इन दिनों सोशल मीडिया पर ऐसा ही एक वीडियो वायरल हो रहा है। दरअसल ये वीडियो दक्षिणी दिल्ली के अंसल प्लाजा के एक रेस्टोरेंट बार का है जहां एक महिला पत्रकार को इसलिए एंट्री नहीं दी गई क्योंकि उन्होंने साड़ी पहनी थी। वीडियो में दिख रहा है कि रेस्टोरेंट में काम करने वाली महिलाएं अनीता चौधरी नाम की पत्रकार को रेस्टोरेंट के अंदर जाने से रोक रही हैं।

ऋचा चड्ढा ने रेस्टोरेंट की आलोचना की

उनका कहना है कि साड़ी स्मार्ट कैजुअल ड्रेस कोड के तहत नहीं आती है इसलिए आपको अंदर नहीं आने दिया जाएगा। ऐसे में अनीता ने ये वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर दिया और लोग इस रेस्टोरेंट को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे हैं। अभिनेत्री ऋचा चड्ढा ने भी एक मीम के जरिए इस घटना की निंदा की है।
ऋचा चड्ढा
2 of 5
बता दें कि इस रेस्टोरेंट का नाम अक्विला है। ऋचा चड्ढा ने इस वीडियो को साझा करते हुए रेस्टोरेंट के लोगों के व्यवहार की आलोचना की है। इस वीडियो को रिट्वीट करते हुए ऋचा ने लिखा, 'ये असभ्यता है, हमारे पारंपरिक कपड़ों की बुराई करना। हमारी भाषा को नीचा दिखाना पोस्ट कोलोनिजेशन ट्रॉमा का सबूत है। इसकी वजह से फासीवाद बढ़ता है और ये ट्रॉमाको और भी बड़ा कर देता है'।


विज्ञापन
ऋचा चड्ढा
3 of 5
आगे ऋचा ने लिखा, 'साड़ी स्मार्ट है आपकी पॉलिसी नहीं'। साथ ही उन्होंने हैशटैग साड़ी नॉट सॉरी अक्विला लिखा है। ऋचा के इस पोस्ट पर कई लोगों की प्रतिक्रिया देखनो को मिल रही है और लोग उनकी बात पर सहमति दिखाते हुए रेस्टोरेंट के लोगों को ट्रोल कर रहे हैं।
ऋचा चड्ढा
4 of 5
बता दें कि जब अनिता ने अंदर जाने से मना करने पर सवाल किया तो वहां की महिला कर्मचारी ने कहा कि, 'मैम हम सिर्फ स्मार्ट कैजुअल्स वालों को ही एंट्री देते हैं और साड़ी स्मार्ट कैजुअल्स में नहीं आती'। इसके बाद से अनीता ने सोशल मीडिया पर ये वीडियो पोस्ट किया और इस पर अब तक ढेरों कमेंट आ चुके हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
ऋचा चड्ढा
5 of 5
एक यूजर ने लिखा, 'सच में, ऐसे खाने पीने की जगहो को स्वतंत्र भारत में भी मौजूद रहने का कोई अधिकार नहीं है। मुझे यकीन है कि ऐसे रेस्टोरेंट-क्लबों के लाइसेंस रद्द करने की जरूरत है जो एथनिक वियर के खिलाफ हैं'। एक अन्य यूजर ने लिखा, 'एंट्री से इनकार करना, फटी-कटी हुई जींस पहन रखी है और बेढंगे जूते पहने हैं पूरी तरह से समझ आता है लेकिन साड़ी पहनने की वजह से एंट्री से इनकार करना मूर्खता है'।
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00