लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   Lucknow ›   theft in day at former upsssc chief house

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के पूर्व अध्यक्ष के घर दिनदहाड़े डकैती

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Published by: Amulya Rastogi Updated Mon, 18 Feb 2019 10:38 PM IST
सार

  • बेटी के भी हाथपैर बांधे, डकैतों के इशारे पर नौकर ने लगाए दोनों को इंजेक्शन 
  • 30 लाख के गहने, 50 हजार नकद व लाइसेंसी रिवॉल्वर भी ले गए डकैत 
  • सीसीटीवी फुटेज में डकैतों के पीछे साइकिल से जाते नजर आया नौकर

पूर्व यूपीएसएसएससी अध्यक्ष
पूर्व यूपीएसएसएससी अध्यक्ष - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

गाजीपुर थाना क्षेत्र में छह-सात डकैतों ने सोमवार सुबह अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के पूर्व अध्यक्ष व पूर्व राज्य संपत्ति अधिकारी राजकिशोर यादव के घर धावा बोला। राजकिशोर के साथ उनकी बेटी प्रशस्ति यादव के हाथपैर बांधे। नौकर से दोनों को इंजेक्शन लगवाए और बक्से व अलमारी तोड़कर 30 लाख के गहने, 50 हजार की नकदी व लाइसेंसी रिवॉल्वर लेकर फरार हो गए। पॉश इलाके में दिनदहाड़े डकैती की खबर पर पुलिस के आला अफसर मौके पर पहुंचे। सीसीटीवी फुटेज में नौकर डकैतों के पीछे साइकिल से जाते नजर आया। चार थानों की पुलिस के साथ क्राइम ब्रांच की टीम डकैतों व नौकर की तलाश में जुटी है। 


पुलिस के मुताबिक, इंदिरानगर के सेक्टर-11 में मुख्यमार्ग पर अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के पूर्व अध्यक्ष राजकिशोर यादव का आवास है। वह सोमवार सुबह भूतल पर अपने कमरे में बैठे टीवी देख रहे थे और विधि छात्रा बेटी प्रशस्ति यादव प्रथम तल पर कमरे में थी। नौकर मुकेश ने सुबह 10:30 बजे कूड़ा फेंकने के लिए मुख्यद्वार खोला। इसके साथ छह सात बदमाशों ने घर पर धावा बोल दिया। राजकिशोर के साथ मुकेश पर तमंचा व बंदूक तान कर जान से मारने की धमकी दी। राजकिशोर के हाथपैर बांधकर बेड पर गिरा दिया। शोर सुनकर प्रशस्ति भूतल पर आई। नौकर ने बदमाशों द्वारा राजकिशोर को बंधक बनाने की बात कहकर कमरे में बुलाया। बदमाशों ने प्रशस्ति को भी पकड़ लिया। हाथपैर बांधकर उसे भी बिस्तर पर पटकने के साथ नकदी मांगी। इन्कार पर जान से मारने की धमकी देते हुए अलमारी व बक्सों की चाभी देने को कहा। दो बदमाशों ने पिता-पुत्री असलहा ताना और नौकर से दोनों को इंजेक्शन लगवाया। इसके बाद चार-पांच बदमाशों ने ने स्टोर में जाकर अलमारी व बक्से तोड़ने शुरू कर दिए।


बदमाशों ने राजकिशोर की मां, पत्नी, बहू और प्रशस्ति की शादी के लिए खरीदे गहने, 50 हजार रुपये और राजकिशोर के लाइसेंसी रिवॉल्वर के साथ अन्य कीमती सामान बंटोरा। बेड पर बंधक बने पड़े पिता-पुत्री को शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी देते हुए दोनों के मोबाइल फोन छीने। कहा कि नौकर को साथ लेकर जा रहे हैं। होशियारी दिखाई तो उसे गोली मार देंगे। इसके बाद माल लेकर फरार हो गए। काफी देर बाद प्रशस्ति ने हिम्मत जुटाकर खुद को बंधन मुक्त किया और पिता के हाथपैर खोले। शोर सुनकर घर के बाहर उनकी चश्मे की दुकान का नौकर पहुंचा। प्रशस्ति ने बेसिक फोन से कॉल करके अपने रिश्तेदारों और पुलिस को डकैती की सूचना दी। 

अधीनस्थ सेवा चयन आयोग के पूर्व अध्यक्ष व पूर्व राज्य संपत्ति अधिकारी के घर दिनदहाड़े डकैती की सूचना पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी व अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे। डकैती की प्राथमिकी दर्ज कराने के साथ आसपास तहकीकात व सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगालने शुरू किए। 

डकैतों के पीछे साइकिल से निकला नौकर 

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि सीसीटीवी फुटेज में राजकिशोर यादव के घर से माल बटोरकर निकले डकैतों के पीछे उनका नौकर साइकिल से जाते नजर आया। राजकिशोर ने बताया कि एक परिचित के कहने पर महीना भर पहले उन्होंने मुकेश को घरेलू नौकर के रूप में रखा था। उससे कई बार आधार कार्ड या अन्य आईडी मांगी लेकिन वह टालता रहा। अपनी बहन का मोबाइल नंबर नोट कराया था। पुलिस की पड़ताल में मोबाइल नंबर फर्जी निकला। 

उप लोकायुक्त समेत कई अफसर पहुंचे
राजकिशोर यादव के घर डकैती की जानकारी पर उप लोकायुक्त शंभू सिंह यादव, आईएएस अफसर पंधारी यादव, पूर्व मुख्य चिकित्सा अधिकारी एसएनएस यादव समेत कई अधिकारी व नेता उनके घर पहुंचे। पुलिस अधिकारियों से डकैतों को जल्द पकड़कर वारदात के खुलासे को कहा। 

बेटी की शादी की थी तैयारी 
राजकिशोर यादव ने पुलिस अधिकारियों को बताया कि विधि छात्रा बेटी प्रशस्ति की शादी की तैयारी चल रही थी। दूसरी बेटी स्वाती निजी अस्पताल में नेत्र चिकित्सक है। बड़ी बेटी पिंकी की भी शादी हो चुकी है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00