हिरासत में लिया गया हनी ट्रैप में फंसा ले. कर्नल, लखनऊ की मिलिट्री इंटेलीजेंस ने पकड़ा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, लखनऊ Updated Thu, 15 Feb 2018 09:30 AM IST
army officer who was trapped in ISI honey trap arrested in jabalpur.
ख़बर सुनें
पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के हनी ट्रैप में सेना के एक और अफसर के फंसने का मामला सामने आया है। जबलपुर में तैनात रहे एक ले. कर्नल को हिरासत में लिया गया है। बैंक खाते में एक करोड़ रुपये ट्रांसफर होने के बाद यह अफसर सेना की इंटेलीजेंस विंग के राडार पर था।
लखनऊ स्थित मध्य कमान के इंटेलीजेंस ब्यूरो को इस अफसर के खाते में बड़ी रकम जमा होने की सूचना मिली थी। जबलपुर मध्य कमान के अंतर्गत आता है। पूछताछ के लिए अफसर को लखनऊ लाया जाएगा।

सेना के खुफिया सूत्रों के मुताबिक ले. कर्नल जबलपुर के 506 आर्मी बेस वर्कशॉप से जुड़ा हुआ है। हनी ट्रैप की भनक लगने पर लखनऊ स्थित मध्य कमान के इंटेलीजेंस ब्यूरो की अधिकारियों की टीम जबलपुर भेजी गई। जहां ले. कर्नल के खाते में एक करोड़ रुपये जमा किए जाने की बात सामने आई।

इसके बाद ले. कर्नल के जबलपुर स्थित दफ्तर में छापेमारी हुई और कम्प्यूटर सहित कई महत्वपूर्ण दस्तावेजों को जब्त किया गया। सूत्रों का कहना है कि ले. कर्नल के जिस बैंक खाते में इतनी बड़ी रकम जमा की गई, वह संदिग्ध है।

मध्य कमान से जबलपुर गई टीम ले. कर्नल को लखनऊ ला रही है। सूत्रों के अनुसार ले. कर्नल ने कुछ बेहद गोपनीय दस्तावेज लीक किए हैं। सैन्य अफसरों ने जबलपुर आर्मी बेस वर्कशॉप में ले. कर्नल से करीब 12 घंटे तक पूछताछ व छानबीन की। इससे पहले वायुसेना के ग्रुप कैप्टन अरुण मारवाह के पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के हनी ट्रैप में फंसने का मामला सामने आया था।

RELATED

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Lucknow

अब नई नीति के तहत होगा शिक्षकों का तबादला, हाईकोर्ट ने निरस्त की याचिकाएं

सूबे के प्राथमिक और उच्च प्राथमिक विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों का तबादला और समायोजन अब नई स्थानांतरण नीति के तहत होगा।

24 मई 2018

Related Videos

राम मंदिर निर्माण न शुरू होने से नाराज है ये साधु, दी आत्मदाह की धमकी

पूर्व सांसद राम विलास वेदांती ने कहा है कि अगर अगले साल 26 मार्च तक राम मंदिर का निर्माण नहीं शुरू हुआ तो वो आत्महदाह कर लेंगे। राम विलास ने ये बयान गोंडा में दिया। राम विलास यहां 24 मई से शुरू हो रही श्रीमद्भागवत कथा करने आए हुए हैं।

23 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen