देर रात तक जागना बना सकता है आपको इन 2 बड़ी बीमारियों का शिकार

लाइफस्टाइल डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 16 May 2018 09:58 AM IST
The effects of sleep deprivation on your brain and body
ख़बर सुनें

जल्दी और देर से सोने वाले लोगों की सेहत पर एक नया अध्ययन हुआ है जिसके नतीजे 'निशाचरों' को परेशान कर सकते हैं। इस अध्ययन में सामने आया है कि देर रात तक जागने वालों को जल्दी मौत का खतरा होता है। इसके अलावा उन्हें मनोवैज्ञानिक रोग और सांस लेने संबंधी दिक्कतें भी हो सकती हैं। लेकिन क्या देर रात तक जागना वाकई आपके लिए बुरा है? क्या इसका मतलब है कि 'रात के उल्लुओं' को अपनी आदत बदलकर सुबह की गौरैया बन जाना चाहिए? 

दफ़्तर के दिनों में कमबख़्त अलार्म की कर्कश ध्वनि आपको बिस्तर से उठाकर अलग कर देती है। शनिवार आते-आते आप नींद के मारे थक चुके होते हैं और फिर अपने रोज के समय से ज़्यादा सोते हैं। यह सुनने में सामान्य लगता है, लेकिन यह इस बात का संकेत है कि आपको पर्याप्त नींद नहीं मिल रही और आप 'सोशल जेट लैग' के शिकार हैं। 'सोशल जेट लैग' हफ़्ते के दिनों के मुकाबले छुट्टी के दिन में आपकी नींद का अंतर है, जब हमारे पास देर से सोने और देर से उठने की 'सहूलियत' होती है।

सोशल जेट लैग जितना ज़्यादा होगा, सेहत की दिक्कतें उतनी ज़्यादा होंगी। इससे दिल की बीमारी और मेटाबॉलिक परेशानियां हो सकती हैं। म्यूनिख की लुडविग-मैक्समिलन यूनिवर्सिटी में  क्रोनोबायोलॉजी के प्रोफेसर टिल रोएनबर्ग के मुताबिक, "यही वो चीज है जिसके आधार पर ऐसे अध्ययन सुबह देर से उठने वालों के लिए सेहत से जुड़े खतरे ज़्यादा बताते हैं।"

स्लीप एंड सर्कैडियन न्यूरोसाइंस इंस्टीट्यूट और नफील्ड लेबोरेट्री ऑफ आप्थलमोलॉजी के प्रमुख रसेल फोस्टर कहते हैं कि अगर आप सुबह जल्दी उठने वालों से देर रात तक काम करवाएं तो उन्हें भी स्वास्थ्य की दिक़्कतें होंगी। 

आगे पढ़ें

'यह इंसान का जीव विज्ञान है'

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all Lifestyle Tips in Hindi related to health tips, fitness tips facts, ideas, tasty recipes in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news from Lifestyle and more news in hindi.

Spotlight

Most Read

Fitness

दही खाने से दूर होती है सूजन : शोध

दही खाने से गठिया और अस्थमा जैसे रोगों से भी मिलती है निजात।

17 मई 2018

Related Videos

क्या होता है जब पहली बार देखता है नेत्रहीन इंसान

आंखें कुदरत का सबसे बड़ा वरदान होती हैं। आंखें न हो तो दुनिया ही नहीं होती है। लेकिन क्या होता है जब नेत्रहीन को आंखें मिल जाती हैं। इस वीडियो में देखें उन लोगों की प्रतिक्रिया जिन्हें आंखों की रौशनी मिल गई।

4 मई 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen