J&K: आतंकग्रस्त इलाकों में सबसे ज्यादा आत्महत्याएं, इतने लोगों ने मौत को लगाया गले

amarujala.com- Presented by: चंद्रा पाण्डेय Updated Sun, 14 Jan 2018 07:13 PM IST
Most Suicides cases in Terrorist Areas in jammu and kashmir
कश्मीर घाटी के आतंकग्रस्त इलाकों में गत दो साल में सबसे ज्यादा आत्महत्याएं हुई हैं। हंदवाड़ा में सबसे अधिक 88, बारामुला और अनंतनाग में 64-64 लोगों ने मौत को गले लगाया। यह और भी चिंताजनक है कि इन इलाकों में 2016 के 2017 में मामलों में इजाफा हुआ है।

ईदगाह (श्रीनगर) से नेकां विधायक मुबारक अहमद गुल के सवाल पर मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने लिखित में यह जानकारी विधानसभा सदन में मुहैया कराई। रियासत में दो साल के भीतर कुल 547 लोगों ने खुदकुशी की है। 2016 में जहां यह संख्या 272 थी, 2017 में बढ़कर 275 हो गई है।

हंदवाड़ा में 2016 में 31 लोगों ने आत्महत्या की थी और 2017 में यह आंकड़ा तकरीबन दोगुना हो गया। 2017 में 57 लोगों ने मौत को गले लगाया।  बारामुला में 2016 में 23 लोगों ने खुदकुशी की थी, जबकि 2017 में ऐसा करने वालों की संख्या 41 तक पर पहुंच गई। अनंतनाग में भी 2016 में 31, जबकि 2017 में 33 लोगों ने आत्महत्या की।
आगे पढ़ें

अकेला कारगिल ऐसा, जहां कोई मामला नहीं

Spotlight

Most Read

National

पाकिस्तान की तबाही के दो वीडियो जारी, तेल डिपो समेत हथियार भंडार नेस्तनाबूद

सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है। भारत के जवाबी हमले में पाकिस्तान की कई फायरिंग पोजिशन, आयुध भंडार और फ्यूल डिपो को बीएसएफ ने उड़ा दिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: LoC से वापस आई पुंछ - रावलकोट के बीच चलने वाली बस

पुछ को पाकिस्तान के कब्जे वाले जम्मू और कश्मीर के रावलकोट से जोड़ने वाली बस को एक बार फिर रोक दिया गया। ये बस सोमवार को पुंछ से रावलकोट जाने के लिए चली, लेकिन एलओसी पर पाकिस्तान द्वारा की जा रही क्रास बार्डर फायरिंग के मद्देनजर इसे वापस भेज दिया गया।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper