लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Sushma Swaraj hints at ISI hand in Indian clerics disappearance in Pakistan

सुषमा स्वराज ने कहा- मौलवियों के लापता होने के पीछे हो सकता है ISI का हाथ

amarujala.com- Presented by: राघवेंद्र मिश्र Updated Sat, 18 Mar 2017 12:34 PM IST
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (फाइल)
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज (फाइल)
ख़बर सुनें
नई दिल्ली के निजामुद्दीन दरगाह के गद्दीनशीं समेत दो भारतीय मौलवी पाकिस्तान पहुंच कर लापता हैं। इस मामले में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट करके कहा कि इसके पीछे आईएसआई का हाथ हो सकता है। 


अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सुषमा ने कहा, इस मामले को भारत शीर्ष स्तर पर ले रहा है और पाकिस्तान के शीर्ष अधिकारियों से बात कर रहा है। एक दूसरे ट्वीट में उन्होंने लिखा, हम कराची में उनके होस्ट से भी बात करने की कोशिश कर रहे हैं। वे प्रेशर में हैं और भारतीय कमिशन के सामने कुछ भी बोलने से इनकार कर रहे हैं।



आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक निजामुद्दीन दरगाह के गद्दीनशीं आसिफ निजामी और नाजिम निजामी बुधवार को लाहौर में मशहूर दाता दरबार गए थे और फिर वहां से कराची के लिए फ्लाइट ली थी। उनके परिवार के मुताबिक आसिफ को कराची जाने की इजाजत दे दी गई लेकिन अधूरे यात्रा कागजातों की वजह से नाजिम को लाहौर एयरपोर्ट पर रोक लिया गया।

एक सूत्र के मुताबिक इसके बाद नाजिम लाहौर एयरपोर्ट से गायब हो गए जबकि आसिफ कराची एयरपोर्ट पहुंचने के बाद लापता हैं। भारत सरकार ने तुरंत यह मामला दिल्ली में पाकिस्तान सरकार के सामने उठाया और इस्लामाबाद में भारतीय मिशन के जरिये भी इसकी चर्चा की।

 

परिवार वाले वापसी की दुआ कर रहे हैं

भारतीय सूफी मौलवी (फाइल)
भारतीय सूफी मौलवी (फाइल)

गौरतलब है कि आसिफ और नाजिम निजामी लाहौर में प्रसिद्ध दाता दरबार की यात्रा करने से पहले 8 मार्च को कराची अपने रिश्तेदारों से मिलने गए थे। निजामुद्दीन दरगाह और दाता दरबार के गद्दीनशीं के एक दूसरे के यहां की यात्रा का पुरानी परंपरा रही है। 

परिवार वाले वापसी की दुआ कर रहे हैं
हजरत निजामुद्दीन औलिया दरगाह के दो उम्रदराज पीरजादा आसिफ अली निजामी और नाजिम निजामी की सकुशल वापसी के लिए परिवार वाले दुआ कर रहे हैं। दोनों लाहौर के दाता दरबार सूफी में जियारत करने गए थे। परिवार वालों के मुताबिक नाजिम निजामी को कुछ लोगों ने लाहौर एयरपोर्ट पर विमान से उतार लिया। जबकि आसिफ अली निजामी कराची एयरपोर्ट पहुंचने के बाद वहां से लापता हो गए। परिवार वालों ने बताया कि दोनों छह मार्च को पाकिस्तान के लिए रवाना हुए थे। दोनों टूरिस्ट वीजा पर पाकिस्तान गए थे। बुधवार को दोनों लाहौर में अपने परिवार वालों से मिलने वाले थे। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00