बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

कोरोना वायरस: अरुणाचल प्रदेश में कोविड-19 के 256 मिले नए मामले, एक मरीज की मौत

एजेंसी, ईटानगर Published by: Kuldeep Singh Updated Tue, 20 Jul 2021 03:38 AM IST

सार

  • राज्य में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 42820 हुई।
  • पूर्वोत्तर राज्य में अब 4,211 सक्रिय मामले।
  • 38,407 मरीजों ने कोरोना को दी मात।
  • 202 मरीजों की कोविड-19 से जा चुकी है जान।
विज्ञापन
corona virus
corona virus - फोटो : PTI
ख़बर सुनें

विस्तार

अरुणाचल प्रदेश में कोविड-19 के 256 नए मामले प्रकाश में आए हैं। इससे यहां कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 42820 हो गई है। वहीं, एक 95 वर्षीय महिला की मौत से यहां कोविड-19 से मरने वालों की तादाद बढ़कर 202 हो गई।
विज्ञापन


राज्य निगरानी अधिकारी लोबसंग जम्पा ने सोमवार को इस बाबत जानकारी देते हुए कहा कि पूर्वोत्तर राज्य में अब 4,211 सक्रिय मामले हैं और 38,407 लोग बीमारी से उबर चुके हैं। कोविड निमोनिया से यहां रामकृष्ण मिशन अस्पताल में बुजुर्ग महिला की मौत हो गई। राजधानी में सबसे अधिक 105 मामले दर्ज किए गए।  


इसके बाद लोअर सुबनसिरी में 30 मामले, लोहित में 25 मामले, पापुमपारे और लेपराडा में 16-16 मामले, तवांग में 12 मामले और निचली दिबांग घाटी में 11 मामले हैं। अधिकारी ने कहा कि राज्य में ठीक होने की दर 89.69 प्रतिशत और सकारात्मकता दर 6.29 प्रतिशत है।

जम्पा ने कहा कि कुल मिलाकर कोविड-19 के अब तक 8,58,884 नमूनों का परीक्षण किया गया है, जिसमें रविवार से 4,065 शामिल हैं। इस बीच, राज्य टीकाकरण अधिकारी दिमोंग पदुंग ने कहा कि अरुणाचल प्रदेश में अब तक कुल 7,76,841 लोगों को टीका लगाया गया है।

बता दें कि आईसीएमआर ने कहा है कि देश में कोरोना महामारी की तीसरी लहर दो-तीन सप्ताह बाद ही आ सकती है। इसके पीछे जिम्मेदार भीड़ होगी, न कि दूसरी लहर की तरह किसी राज्य का कोई चुनाव। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के मुख्य संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉ. समीरन पांडा ने यह आशंका जताते हुए कहा, अगस्त से देश में कोरोना की तीसरी लहर दिखाई दे सकती है।

पांडा ने गणितीय आकलन के आधार पर आशंका जताई है कि आगामी लहर में रोजाना के मामलों में करीब 50 फीसदी की बढ़ोत्तरी हो सकती है। अगस्त में आने वाली लहर के दौरान रोजाना एक लाख से अधिक मामले सामने आ सकते हैं।

हालांकि, दूसरी लहर की तुलना में यह काफी कम है, क्योंकि मई के पहले सप्ताह के दौरान देश में रोजाना चार लाख से भी अधिक मामले सामने आए थे। मौजूदा स्थिति देखें तो औसतन 40 से 45 हजार मामले रोजाना सामने आ रहे हैं। इसी के हिसाब से विशेषज्ञों ने तीसरी लहर में कोरोना के नए मामलों में 50 फीसदी बढ़ोतरी का अनुमान जताया है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X