लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Agneepath Congress Party Satyagraha in all assembly seats Today asks govt to withdraw Tuglaqi move

Agneepath: आज सभी विधानसभा क्षेत्रों में ‘सत्याग्रह’ करेगी कांग्रेस, सरकार से 'तुगलकी' कदम वापस लेने की मांग

पीटीआई, नई दिल्ली। Published by: देव कश्यप Updated Mon, 27 Jun 2022 01:02 AM IST
सार

कांग्रेस के 20 वरिष्ठ नेताओं और प्रवक्ताओं ने कई शहरों में संवाददाता सम्मेलनों को संबोधित किया, जिसका शीर्षक 'अग्निपथ की बात: युवाओं के साथ विश्वासघात' था। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे और युवाओं के बीच असंतोष का हवाला देते हुए योजना को वापस लेने की मांग की।

कांग्रेस (सांकेतिक तस्वीर)।
कांग्रेस (सांकेतिक तस्वीर)। - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें

विस्तार

कांग्रेस ने अग्निपथ योजना को लेकर सरकार पर हमला तेज करते हुए रविवार को कहा कि मोदी सरकार सेना में भर्ती की यह नयी योजना लाकर युवाओं के भविष्य के साथ खेल रही है। कांग्रेस इस योजना के खिलाफ सोमवार को देश के सभी विधानसभा क्षेत्रों में 'सत्याग्रह' करेगी और अग्निपथ योजना को लागू करने के "तुगलकी" फैसले को वापस लेने की मांग करेगी।



अग्निपथ योजना को वापस लेने की मांग
पश्चिम बंगाल में पवन खेड़ा, लखनऊ में अजय माकन, मुंबई में सुप्रिया श्रीनेत और चेन्नई में गौरव गोगोई सहित कांग्रेस के 20 वरिष्ठ नेताओं और प्रवक्ताओं ने कई शहरों में संवाददाता सम्मेलनों को संबोधित किया, जिसका शीर्षक 'अग्निपथ की बात: युवाओं के साथ विश्वासघात' था। इस दौरान उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरे और युवाओं के बीच असंतोष का हवाला देते हुए योजना को वापस लेने की मांग की।


कांग्रेस ने कहा कि 'बिना विचार-विमर्श के थोपी गई', 'युवा विरोधी व राष्ट्र विरोधी' योजना के खिलाफ राष्ट्रीय स्तर पर प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में सोमवार को सुबह 10:00 बजे से दोपहर एक बजे तक सभी विधानसभा क्षेत्रों में कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता "शांतिपूर्ण सत्याग्रह" करेंगे। पार्टी प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने दिल्ली में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस युवाओं के साथ खड़ी है और इस ‘‘तुगलकी फैसले’’ को तुरंत वापस लिया जाना चाहिए।

गोहिल ने कहा, 'ऐसे समय में जब चीन हमारी सीमाओं में घुस आया है... यह (अग्निपथ योजना) राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने जैसी है।' उन्होंने कहा, 'मैं प्रधानमंत्री से मांग करता हूं कि अग्निपथ योजना को वापस लिया जाए और भाजपा के जो भी मंत्री या प्रवक्ता कहते हैं कि अग्निपथ योजना अच्छी है, वे अपने बेटे-बेटियों को इस योजना के तहत भर्ती करवाएं।'

गोहिल ने भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय की उस टिप्पणी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से माफी मांगने की भी मांग की, जिसमें उन्होंने कहा था कि वह पार्टी कार्यालय की सुरक्षा के लिए 'अग्निवर' को प्राथमिकता देंगे। उन्होंने कहा, 'जिस नेता ने कहा है कि भाजपा कार्यालयों में गार्ड के रूप में अग्निवीरों को नियुक्त किया जाएगा, उन्हें प्रधानमंत्री द्वारा बर्खास्त कर दिया जाना चाहिए और प्रधानमंत्री को माफी मांगनी चाहिए।'

जयपुर में प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए हरियाणा से कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने भी अग्निपथ योजना को लेकर केंद्र पर हमला बोला और कहा कि सरकार ने नीतियों का मसौदा तैयार करने के लिए दूसरे देशों की नकल की।

उन्होंने कहा, 'सरकार ने 'नकलची बंदर' का रवैया अपनाया है, लेकिन यह हिंदुस्तान है। कभी यह कृषि कानूनों के संदर्भ में अमेरिका का उदाहरण देती है, तो कभी सैन्य सेवा के संदर्भ में इस्राइल की बात करती है।'

गौरतलब है कि 14 जून को अग्निपथ योजना की घोषणा के बाद देश के विभिन्न हिस्सों में विरोध प्रदर्शन हुए थे। इस योजना के तहत साढ़े 17 से 21 वर्ष के युवाओं को चार वर्ष के अनुबंध के आधार पर सेना में भर्ती किए जाने का प्रावधान है। चार वर्ष की सेवा पूरी करने के बाद उनमें से 25 प्रतिशत को नियमित सेवा के लिए चुना जाएगा। वर्ष 2022 के लिए आवेदकों की ऊपरी आयु सीमा बढ़ाकर 23 वर्ष कर दी गई है।

कांग्रेस ने 20 जून को इस मुद्दे पर नई दिल्ली के जंतर-मंतर और विभिन्न राज्यों में शांतिपूर्ण सत्याग्रह किया था। कांग्रेस सांसदों ने भी अग्निपथ के खिलाफ संसद से शांतिपूर्ण मार्च निकाला था और वरिष्ठ नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को एक ज्ञापन सौंपकर उनसे विवादास्पद योजना को वापस लेने का अनुरोध किया था। राष्ट्रपति सशस्त्र बलों के कमांडर-इन-चीफ होते हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00