लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Himachal Pradesh ›   Bilaspur News ›   When IPD started, OPD of all departments increased

एम्स बिलासपुर में चिकित्सकों ने की किडनी की बायोप्सी

Shimla Bureau शिमला ब्यूरो
Updated Wed, 16 Nov 2022 11:18 PM IST
एम्स बिलासपुर में दोपहर बाद ऑफलाइन पर्ची बनवाने के लिए लाइन में खड़े लोग। संवाद
एम्स बिलासपुर में दोपहर बाद ऑफलाइन पर्ची बनवाने के लिए लाइन में खड़े लोग। संवाद - फोटो : BILASPUR
विज्ञापन
बिलासपुर। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान बिलासपुर में आईपीडी के लोकार्पण के बाद नैफ्रोलॉजी विभाग ने पहली सफल किडनी की बायोप्सी की है। कुछ दिन पहले ही यह बायोप्सी हुई है। इससे पहले बायोप्सी के लिए इस विभाग के मरीजों को शिमला और चंडीगढ़ का रुख करना पड़ता था। लेकिन अब उन्हें बिलासपुर में ही यह सुविधा मिल रही है।

बिलासपुर एम्स की बात करें तो रोजाना सभी विभागों की यहां पर 600 से ज्यादा की ओपीडी हो रही है। इनमें मेडिसिन विभाग की सबसे अधिक ओपीडी 200 के करीब होती है। वहीं नेफ्रोलॉजी, ऑर्थो, स्किन, सर्जरी, ईएनटी व अन्य मुख्य विभागों में भी रोजाना 60-70 मरीज पहुंचते हैं। मेडिसिन विभाग में जांच के लिए मरीजों को एक से दो सप्ताह तक का समय पहले लेना पड़ रहा है। इसका सबसे बड़ा कारण यह है कि बिलासपुर जिले में कहीं भी मेडिसिन विशेषज्ञ नहीं है। सर्दी जुकाम वाले मरीजों को भी एम्स की ओर रुख करना पड़ रहा है। ऐसे में एम्स के चिकित्सकों काम बढ़ गया है।

अगर जिला अस्पताल में एमडी मेडिसिन की नियुक्ति हो जाती है तो एम्स के चिकित्सक विशेष मरीजों को जल्द समय दे पाएंगे। लेकिन फिलहाल ऐसा कुछ होता दिखाई नहीं दे रहा है।
एम्स बिलासपुर में आपातस्थिति की सभी सुविधाएं लगभग पूरी हो चुकी हैं। इनमें कॉर्डियोलॉजी विभाग की सेवाएं, सीटी स्कैन, एमआरआई प्रमुख हैं। आईपीडी शुरू न होने से पहले लोगों को इन स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए टांडा, शिमला,नेरचौक और पीजीआई जाना पड़ता था। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा एम्स के लोकार्पण के बाद यहां पर करीब 300 से ज्यादा मरीज भर्ती हो चुके हैं। इनमें सबसे ज्यादा मेडिसिन विभाग के ही मरीज शामिल हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00