FCAT ने देखी गोविंदा की 'रंगीला राजा', 26 नवंबर को आएगा फैसला

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Updated Sun, 25 Nov 2018 03:02 PM IST
विज्ञापन
Rangeela Raja
Rangeela Raja - फोटो : instagram

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें
गोविंदा की आने वाली फिल्म रंगीला राजा विवादों में घिरी हुई है। सेंसर बोर्ड ने फिल्म में 20 कट लगाने के सुझाव दिए हैं। मेकर्स की अपील के बाद फिल्म प्रमाणन अपीलीय ट्रिब्यूनल (FCAT) ने ये फिल्म देखी। स्क्रीनिंग के वक्त केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड की टीम भी मौजूद रही।
विज्ञापन

फिल्म पर FCAT सोमवार को अपना फैसला सुनाएगा। इससे पहले निर्माता-निर्देशक पहलाज निहलानी ने बॉम्बे हाईकोर्ट में सेंसर बोर्ड के फैसले को चुनौती दी।पहलाज निहलानी का मानना है कि सेंसर बोर्ड की ओर से लगाए गए कट अन्याय पूर्ण हैं और ऐसा उन्हें परेशान करने की वजह से किया गया है।    
दूसरी ओर सेंसर बोर्ड ने एक बयान जारी करते हुए पहलाज निहलानी पर नियमों के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया है। बोर्ड ने कहा कि 'कमेटी ने फिल्म को ए सर्टिफिकेट दिए जाने का सुझाव दिया था जबकि प्रोड्यूसर यू/ए सर्टिफिकेेट की मांग कर रहे हैं। 
रंगीला राजा में मुख्य भूमिका निभाने वाले गोविंदा का कहना है कि 'सीबीएफसी ने फिल्म के कुछ दृश्यों को सेंसर किया है। इसकी वजह से अब हम कानूनी मदद लेंगे। इस तरह का माहौल फिल्म इंडस्ट्री के लिए अच्छा नहीं है। मुझे नहीं लगता कि फिल्म में ऐसा कोई सीन है जिस पर विवाद हो। मुझे ऐसा लगता है कि जानबूझकर फिल्म की रिलीज रोकी जा रही है। पहलाज निहलानी की फिल्म से मैंने अपना करियर शुरू किया था। मुझे उम्मीद  है फिल्म बिना किसी मुश्किलों के रिलीज होगी। हम जल्द ही रिलीज की तारीख का ऐलान करेंगे।
विज्ञापन
विज्ञापन
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X
  • Downloads

Follow Us