लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Delhi ›   Delhi NCR ›   Authorization prevented from making Bhagwat story without permission in Greater Noida

नोएडा: नमाज के बाद बिना अनुमति भागवत कथा कराने से प्राधिकरण ने रोका, हटाया गया टेंट

ब्यूरो, अमर उजाला, ग्रेटर नोएडा Published by: विक्रांत चतुर्वेदी Updated Thu, 27 Dec 2018 02:51 AM IST
अमरोहा में छापेमारी
अमरोहा में छापेमारी - फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें

नोएडा के सेक्टर-58 में खुले में नमाज पढ़ने पर पाबंदी लगाने के बाद अब ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण ने बिना अनुमति के आयोजित किए जा रहे भागवत कथा को रोक दिया है। बुधवार को सेक्टर-37 में प्राधिकरण की जमीन पर लगाए गए टेंट हटा दिए गए। जिस वक्त यह कार्रवाई हो रही थी, उसी समय महिलाएं कलश यात्रा निकाल रही थीं। रोक के विरोध में महिलाओं और आयोजकों ने जमकर हंगामा किया।



आयोजकों ने बृहस्पतिवार को बिना टेंट के ही खुले मैदान में कथा के आयोजन की बात कही है। मंगलवार शाम को ग्रेटर नोएडा के सेक्टर-37 में प्राधिकरण की खाली जमीन पर बिना अनुमति के नौ दिन तक भागवत कथा कराने के लिए टेंट लगा दिए गए थे। मौके पर म्यूजिक सिस्टम व माइक भी लगाए गए थे। 


प्राधिकरण की टीम ने बुधवार सुबह टेंट को हटा दिया। मौके पर आयोजक महिलाओं से प्राधिकरण अधिकारियों की खूब नोकझोंक हुई। बताया गया कि मौके पर एक पार्टी और केंद्र और राज्य सरकार के नाम लेकर अधिकारियों पर दबाव बनाने की कोशिश की गई। 

मौके पर मौजूद 50 से ज्यादा लोगों ने प्राधिकरण की कार्रवाई का विरोध किया। विरोध को देखते हुए देर शाम तक प्राधिकरण का दस्ता मौके पर जमा रहा। इस मामले में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ नरेंद्र भूषण ने कहा कि बिना अनुमति के प्राधिकरण की संपत्ति पर किसी तरह का आयोजन नहीं करने दिया जाएगा।

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00