बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

IAS एकेडमी में रही 'महिला जासूस' का सनसनीखेज खुलासा

राकेश शर्मा/ अमर उजाला, देहरादून Updated Fri, 03 Apr 2015 05:42 PM IST
विज्ञापन
fake ias officer in IAS academy mussoorie.

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय प्रशासनिक एकेडमी में फर्जी आईएएस बनकर रहने के आरोप में घिरी युवती रूबी चौधरी ने एकाएक सामने आकर कई सनसनीखेज खुलासे किए। छह महीने तक एकेडमी में रहने की बात को नकारते हुए गुरुवार को मीडिया से बातचीत में उसने दावा किया कि वह एकेडमी में नौकरी हासिल करने के सिलसिले में बस आती-जाती रही है।
विज्ञापन


रूबी ने संस्थान के डिप्टी डायरेक्टर सौरभ जैन को कठघरे में खड़ा करते हुए उन पर आरोप लगाया कि नौकरी दिलाने के नाम पर उनसे 20 लाख का सौदा हुआ था। पांच लाख वह एडवांस भी दे चुकी है। रूबी ने बताया कि पिछले साल जुलाई में दिल्ली के विज्ञान भवन में नेशनल अवार्ड समारोह के दौरान डिप्टी डायरेक्टर सौरभ जैन से मुलाकात हुई थी।


रूबी के अनुसार जैन ने उसे बताया कि अकादमी की लाइब्रेरियन जल्द सेवानिवृत्त होने वाली हैं। इस पद पर रूबी को नौकरी मिल सकती है। कई दौर की बातचीत के बाद सौरभ जैन ने इस नौकरी के बदले 20 लाख रुपए की डिमांड की। रूबी ने पति और परिजनों की मदद से पांच लाख रुपए जमा किए।

आरोप है कि पहली किस्त में सवा लाख रुपए डिप्टी डायरेक्टर को उनके ऑफिस में दिए गए, जबकि पौने चार लाख मसूरी के लाइब्रेरी चौक पर सुपुर्द किए गए। इसी बीच जैन ने अकादमी में प्रवेश के लिए उसे फर्जी आई कार्ड बनाकर दिया। उसने इस आपत्ति भी जताई थी।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

मुंह बंद रखने को पांच करोड़ की ऑफर

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us