विज्ञापन
विज्ञापन
Home ›   Video ›   India News ›   ltte behind rajeev gandhi assasination

कभी जिसकी की थी मदद, वही बना राजीव गांधी की मौत का कारण

3.2K Views
कन्वर्जेंस डेस्क, अमर उजाला Updated Mon, 20 May 2019 07:43 PM IST

21 मई 1991 ये वो तारीख थी जब देश के तत्कालीन प्रधानमंत्री की हत्या हुई थी। एक धमाका हुआ जिसमें देशवासियों ने राजीव गांधी को वक्त से पहले ही खो दिया। राजीव गांधी की हत्या के पीछे लिट्टे का हाथ था। 

अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें  
विज्ञापन

Latest

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree