विज्ञापन

इस वोटिंग एप के चार करोड़ यूजर्स का निजी डाटा हुआ चोरी

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sat, 23 May 2020 01:26 PM IST
विज्ञापन
wishbone app
wishbone app - फोटो : wishbone
ख़बर सुनें

सार

  • 2017 में भी लीक हुआ था Wishbone का डाटा
  • 0.85 बिट्क्वाइन में बिक रहा है डाटा
  • MD5 फॉर्मेट में है पासवर्ड

विस्तार

पांच साल पहले के मुकाबले आज हैकिंग की घटनाएं काफी बढ़ गई हैं। आए दिन फेसबुक डाटा लीक की रिपोर्ट्स सामने आती रहती हैं। अब एक ऐसे एप के डाटा लीक की रिपोर्ट सामने आई है जो एकदम अलहदा है। एक हैकर ने Wishbone के 40 मिलियन यानी करीब चार करोड़ यूजर्स का डाटा चोरी कर लिया है। बता दें कि Wishbone के वोटिंग है जिसपर लोग दो प्रोडक्ट के बारे में अपनी राय देते हैं।
विज्ञापन

Wishbone के लीक हुए चार करोड़ डाटा कई हैकिंग फोरम्स पर बिक रहे हैं जिनकी कीमत है। बिक रहे डाटा में यूजर्स नेम, ई-मेल, फोन नंबर, देश/राज्य/शहर और पासवर्ड की भी जानकारी शामिल है।
हैकर्स का दावा है कि पासवर्ड को SHA1 फॉर्मेट में रखा गया है, जबकि ZDNet के हाथ जो सैंपल लगा है उसके मुताबिक पासवर्ड MD5 फॉर्मेट में है। बता दें कि MD5 पासवर्ड का सबसे कमजोर फॉर्मेट है। इस फॉर्मेट में पासवर्ड साधारण टेक्स्ट के रूप में रहता है।
लीक हुए डाटा में यूजर्स की प्रोफाइलस यूआरएल, पोल हिस्ट्री तक शामिल हैं। हैकर का दावा है कि इस साल की जनवरी में ही डाटा चोरी की। लीक डाटा में यूजर्स के रजिस्ट्रेशन का महीना जनवरी 2020 है, हालांकि यहां अभी यह स्पष्ट नहीं है कि किसी आम आदमी ने डाटा लीक किया है या फिर यह किसी हैकर का कारनामा है।

इस लीक के जरिए करीब 10 कंपनियों के 1.5 अरब से अधिक डाटा बेचे जा रहे हैं। अधिकतर डाटा उन कंपनियों के हैं जो पिछले साल हैकिंग की शिकार हुईं थीं। बता दें कि Wishbone साल 2017 में भी हैक हुआ था जिसमें 0.2 करोड़ यूजर्स का डाटा लीक हुआ था। 
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all Tech News in Hindi related to live news update of latest mobile reviews apps, tablets etc. Stay updated with us for all breaking news from Tech and more Hindi News.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us