शाम के समय यह 5 काम नहीं करें, होती है धन और स्वास्थ्य की हानि

राकेश झा/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Wed, 06 Apr 2016 04:27 PM IST
सूर्यास्त
1 of 6
विज्ञापन
शास्‍त्रों में बेहतर और खुशहाल जीवन के ल‌िए कई उपाय और न‌ियम बताए गए हैं। इनमें खान-पान, रहन-सहन, आचार-व्यवहार से लेकर स्‍त्री पुरुष संबंधों तक की बात की गई है। शास्‍त्र कहता है व्यक्त‌ि द्वार क‌िए जाने वाले हर काम का उसके जीवन पर प्रभाव पड़ता है। अपने कर्मों के प्रभाव से ही व्यक्त‌ि स्वस्‍थ्य और बीमार होता है। व्यक्त‌ि की आर्थ‌िक स्‍थ‌ित‌ि भी उसकी द‌िनचर्या से प्रभाव‌ित होती है। इसल‌िए हर काम के ल‌िए शास्‍त्रों में समय का न‌िर्धारण क‌िया गया है इस क्रम में बताया गया है क‌ि चार काम ऐसे हैं ज‌िन्हें सूर्यास्त यानी शाम के समय नहीं करना चाह‌िए।

शाम के समय यह 5 काम नहीं करें, होती है धन और स्वास्‍थ्य की हान‌ि

खाना
2 of 6
मनुसंह‌िता में बताया गया है क‌ि 'चत्वार‌ि खलु  कार्याण‌ि संध्याकाले व‌िवर्जयेत्। आहारं मैथुनं न‌िद्रां स्वाध्यायन्च चतुर्थकम्।। यानी चार काम ऐसे हैं जो शाम के समय नहीं करना चाह‌िए। ज‌िनमें पहला काम है भोजन। यानी सूर्यास्त के समय भोजन नहीं करना चाह‌िए। कहते हैं इससे अगले जन्म में पशु योनी में जन्म म‌िलता है।
विज्ञापन

शाम के समय यह 5 काम नहीं करें, होती है धन और स्वास्‍थ्य की हान‌ि

सोना
3 of 6
शाम के समय बीमार और बच्चों के अलावा क‌िसी भी स्वस्‍थ व्यक्त‌ि को नहीं सोना चाह‌िए। शाम के समय सोने से व्यक्त‌ि बीमार होता है और देवी लक्ष्मी भी नाराज होती हैं।

शाम के समय यह 5 काम नहीं करें, होती है धन और स्वास्‍थ्य की हान‌ि

प्‍यार
4 of 6
सूर्यास्त द‌िन और रात का संध‌िकाल होता है यह ध्यान और साधना का समय होता है। इस समय काम भाव को न‌ियंत्र‌ित रखना चाह‌िए और स्‍त्री पुरूष प्रसंग से बचना चाह‌िए। इस समय गर्भधारण से उत्पन्न संतान संस्कारी नहीं होता है और पर‌िवार की मर्यादा को चोट पहुंचाता है।
विज्ञापन
विज्ञापन
वेद
5 of 6
संध्या के समय वेद और शास्‍त्रों का अध्ययन नहीं करना चाह‌िए। इस समय स‌िर्फ ध्यान और साधना ही लाभप्रद होती है।
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें आस्था समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। आस्था जगत की अन्य खबरें जैसे पॉज़िटिव लाइफ़ फैक्ट्स,स्वास्थ्य संबंधी सभी धर्म और त्योहार आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00