लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Madhya Pradesh ›   6 terrorists arrested in Bhopal: Explosives found in large quantities, ATS action

मध्य प्रदेश: भोपाल से 4 बांग्लादेशी आतंकी गिरफ्तार, देश विरोधी घटनाओं को अंजाम देने स्लीपर सेल तैयार कर रहे थे

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, भोपाल Published by: आनंद पवार Updated Sun, 13 Mar 2022 06:47 PM IST
सार

राजधानी भोपाल में मध्यप्रदेश एटीएस ने प्रतिबंधित संगठन जमात ए मुजाहिद्दीन बांग्लोदश (जेएमबी) आतंकी संगठन के 4 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। आरोपी जेहादी गतिविधियों में शामिल थे और देश विरोधी घटनाओं को अंजाम देने के लिए रिमोट बेस/ स्लीपर सेल तैयार कर रहे थे। 

पुलिस ने आरोपी को भेजा जेल
पुलिस ने आरोपी को भेजा जेल - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

मध्य प्रदेश एटीएस ने भोपाल से प्रतिबंधित संगठन जमात ए मुजाहिद्दीन बांग्लोदश (जेएमबी) आतंकी संगठन के 4 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। आरोपी जेहादी गतिविधियों में शामिल थे और देश विरोधी घटनाओं को अंजाम देने के लिए रिमोट बेस/ स्लीपर सेल तैयार कर रहे थे। फिलहाल आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। 


भोपाल के ऐशबाग थाने से 200 मीटर की दूरी पर आतंकी किराए का घर लेकर रह रहे थे। एटीएस की तरफ से जारी बयान में बताया कि संदिग्ध व्यक्तियों के इलाके में रह कर संदिग्ध गतिविधियों में लिप्त रहने की सूचना मिली थी। जिसके बाद एटीएस ने संदिग्ध ठिकानों पर शनिवार देर रात दबिश देकर चारों को पकड़ा है। प्रारंभिक पूछताछ में चारों के बाग्लादेशी होने की जानकारी मिली है। पकड़े गए आरोपी में 32 वर्षीय फजहर अली उर्फ मेहमूद पिता अशरफ इस्लाम, 24 वर्षीय मोहम्मद अकील उर्फ अहमद पिता नूर अहमद शेख, 28 वर्षीय जहूरउद्दीन उर्फ इब्राहिम उर्फ मिलोन पठान उर्फ जौहर अली पिता शाहिद पठान और फजहर जैनुल आबदीन उर्फ अकरम अल अहसन उर्फ हुसैन पिता अब्दुल रहमान शामिल है। 


जेहादी साहित्य बरामद 
आरोपियों के पास से भारी मात्रा में जेहादी साहित्य, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण व संदिग्ध दस्तावेज मिले हैं। आरोपी कट्टर तालिबानी सोच के हैं। एटीएस ने करौंद में भी संदिग्ध ठिकाने पर सर्च की है। चारों सदस्य प्रतिबंधित संगठन जमात ए मुजाहिद्दीन बांग्लोदश के सक्रिय सदस्य हैं। 

केन्द्र ने लगाया है प्रतिबंध 
जेएमबी ने पश्चिम बंगाल के वर्धमान में बम ब्लास्ट किया था, जिसमें दो लोगों की मौत हो गई थी। वर्ष 2018 में बोधगया में भी बम ब्लास्ट किया था। इन आतंकी घटनाओं के चलते केन्द्र सरकार ने जेएमबी को 2019 में 5 वर्ष के लिए प्रतिबंधित संगठन घोषित किया है। इस प्रतिबंध के चलते जेएमबी देश भर में अलग-अलग जगह स्लीपर सेल चला रहा है। भोपाल में पकड़ाया मॉडयूल ऐसी ही एक स्लीपर सेल का हिस्सा है। जिसके माध्यम से भविष्य में कोई बड़ी घटना को अंजाम दे सकें। 

बांग्लादेश में किया नरसंहार 
जमात ए मुजाहिद्दीन बांग्लोदश संगठन ने वर्ष 2005 में बांग्लादेश के 50 शहरों व कस्बों के 300 स्थानों पर लगभग 500 छोटे बम विस्फोट किए थे। साथ ही बांग्लोदश में बड़े स्तर पर नरसंहार भी किया है।

खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00