टीबी से बचना है तो विटामिन डी लें

मेलबर्न/एजेंसी Updated Fri, 28 Dec 2012 05:16 PM IST
vitamin d will protect you from tb
ख़बर सुनें
वैसे तो त्वचा या बालों की सेहत के लिए विटामिन डी की उपयोगिता जगजाहिर है लेकिन क्या आपको पता है कि अगर शरीर में विटामिन डी कम है तो आपको टीबी का भी खतरा हो सकता है? हाल में एक आस्ट्रेलियाई शोध में पाया गया कि विटामिन डी की कमी से टीबी का खतरा हो सकता है।
मेलबर्न के रॉयल मेलबर्न अस्पताल की डॉक्टर कैथरीन गिबने बताती हैं कि हमने अपने अध्ययन में पाया कि विटामिन डी की कमी से माइक्रोबैक्टैरियम ट्यूबरक्लॉसिस होने का खतरा बढ़ जाता है। यह शोध मेलबर्न अस्पताल में 375 अफ्रीकी आप्रवासियों पर किया गया जिसमें पाया गया कि जिन मरीजों में विटामिन डी की कमी थी, उनमें टीबी के बैक्टीरिया मिले। शोध में ऐसे करीब 78 प्रतिशत मरीज पाए गए।

विश्व के गंभीर रोगों में से एक है टीबी
टीबी विश्व की प्रमुख समस्यां में से एक है। विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी किए गए आंकड़ों पर गौर करें तो 16 करोड़ लोग हर साल इस बीमारी से मौत की चपेट में आते हैं। यानी विश्व की करीब एक तिहाई आबाद इस रोग से ग्रसित है। टीबी की इसी गंभीरता को देखते हुए हमारे देश में भी इसे सूचीगत रोगों में शामिल किया गया है।

प्रतिरोधी क्षमता बढ़ाता है विटामिन डी

विटामिन डी हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी तत्व है जो भोजन के अलावा धूप से भी मिलता है। इसका प्रभाव कैथलीसाइडिन उत्पादन पर भी पड़ता है जिससे प्रतिरोधी क्षमता बढ़ती है और शरीर लंबे समय तक रोगों से लड़ सकता है। एक तरह से यह विटामिन शरीर में एंटी बॉयोटिक्स की तरह काम करता है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all update about cricket news, Entertainment news , fitness news, bollywood news in hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

Spotlight

Most Read

Healthy Food

भोज्य पदार्थों की प्रकृति जानकर ही करें सेवन

संतुलित भोजन सभी प्रकृति के लोगों के लिए ठीक रहता है और शरीर के साधारण से असंतुलन को भी ठीक कर लेता है।

17 जुलाई 2018

Related Videos

तांबे का बर्तन इन चीजों को बना देता है जहर

तांबे के बर्तन में रखा पानी अमृत समान माना जाता है। लेकिन यही तांबा और चीजों के साथ मिलकर खाने को जहर भी बना सकता है।

4 फरवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen