विज्ञापन

आलू के साथ गुजरात पहुंचाई जा रही थी हरियाणा और पंजाब की 'अंगूरी', राजस्थान में पकड़ी गई

अमर उजाला टीम डिजिटल/जयपुर  Updated Tue, 21 Nov 2017 02:31 PM IST
अवैध शराब, यूं खुली तस्करी की पोल
अवैध शराब, यूं खुली तस्करी की पोल - फोटो : Amar Ujala
ख़बर सुनें
गुजरात इलेक्शन के चलते वहां अवैध शराब की खपत बढ़ गई है। इस खपत को पूरा करने के लिए तस्कर रोज नए—नए तरीके ईजाद कर रहे हैं। 
विज्ञापन
अब आलू के बोरों के नीचे छिपाकर शराब की तस्करी करने का मामला सामने आया है। हरियाणा और पंजाब निर्मित यह अवैध शराब गुजरात पहुंचने से पहले राजस्थान में पकड़ी गई।

अलवर जिले के बहरोड़ कस्बे में आबकारी विभाग ने बीती देर शाम को एक बड़ी कार्रवाई करते हुए एक ट्रक में आलू के बोरों की आड़ में छिपाकर ले जाई जा रही भारी मात्रा में अवैध शराब पकड़ी। जिसकी बाजार कीमत करीब 25 लाख रुपए आंकी जा रही है।

आबकारी इंस्पेक्टर वीरेंद्र यादव ने बताया कि चंडीगढ़ निर्मित अंग्रेजी शराब से भरा ट्रक तस्करी कर गुजरात ले जाने की सूचना मिली थी। इस पर पुलिस ने शाहजहांपुर बॉर्डर पर नाकाबंदी करवाई। जहां चेकपोस्ट पर मुखबिर से सूचना प्राप्त ट्रक को नंबर देखकर रुकवाया गया।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

ट्रक में छिपा रखे 676 कार्टन शराब के जब्त

विज्ञापन

Recommended

जम्मू कश्मीर में 20 साल में सबसे बड़ा आतंकी हमला, विस्तृत कवरेज यहां पढ़ें
Pulwama Exclusive

जम्मू कश्मीर में 20 साल में सबसे बड़ा आतंकी हमला, विस्तृत कवरेज यहां पढ़ें

मोक्ष और अभय की कामना को पूर्ण करने के लिए शिवरात्रि पर ज्योतिर्लिंग काशी विश्वनाथ मंदिर में करवाएं विशेष शिव पूजा
ज्योतिष समाधान

मोक्ष और अभय की कामना को पूर्ण करने के लिए शिवरात्रि पर ज्योतिर्लिंग काशी विश्वनाथ मंदिर में करवाएं विशेष शिव पूजा

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all crime news in Hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

FATF में पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट कराएगी भारत सरकार सहित 5 बड़ी खबरें

अमर उजाला डॉट कॉम पर देश-दुनिया की राजनीति, खेल, क्राइम, सिनेमा, फैशन और धर्म से जुड़ी खबरें। देखिए LIVE BULLETINS - शाम 5 बजे।

17 फरवरी 2019

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree