बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

फर्जी नक्शे पास करने वाले गिरोह का पर्दाफाश, तीन गिरफ्तार

अमर उजाला टीम डिजिटल/जयपुर Updated Fri, 19 May 2017 04:20 PM IST
विज्ञापन
पुलिस की गिरफ्त में आरोपित
पुलिस की गिरफ्त में आरोपित - फोटो : amar ujala

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
अजमेर के कोतवाली थाना पुलिस ने नगर निगम के फर्जी नक्शे और एनओसी जारी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर दिया। पुलिस ने गिरोह के सरगना सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। उनके कब्जे से कई विभागों व नोटेरी की सील भी जब्त की गई है।
विज्ञापन


डीएसपी राजेश मीणा ने बताया कि 9 मई को नगर निगम के उपायुक्त ने कोतवाली थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। इसमें बताया गया था कि निगम की फर्जी सील लगाकर नक्शे जारी किए जा रहे हैं। इस शिकायत पर जब जांच की गई तो सामने आया कि पहाड़गंज खटीक बस्ती निवासी भरत सौलंकी को निगम के रजिस्टर्ड आर्किटेक्ट शीलरतन यादव ने नक्शा पास करके दिया है। यादव ने अपने स्तर पर ही नक्शे बनाकर फर्जी सील का प्रयोग किया था। डीएसपी मीणा ने बताया कि कमल दत्त भारद्वाज और नवीन सक्सैना प्रोपर्टी का काम करते थे और यादव के पास ग्राहक पकड़ कर लाते थे।


इस पर इन तीनों को गिरफ्तार किया गया। उक्त गिरोह निगम का नक्शा पास करने तक ही नहीं, बल्कि बैंक लोन करवाने तक की गारंटी लेता था। कोतवाली थानाधिकारी बनवारी लाल मीणा ने बताया कि शील रतन यादव और अन्य निगम के रजिस्टर्ड आर्किटेक्ट की भी फर्जी सील बनाकर काम में लेते थे। आरोपितों के कब्जे से चार दर्जन से अधिक सील बरामद की गई है। उक्त गिरोह के अन्य साथियों का भी सुराग लगाया जा रहा है।

 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us