बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शोले की वो बारीकियां, जिसने इसे बनाया 'कल्ट क्लासिक'

Updated Sat, 15 Aug 2015 08:22 PM IST
विज्ञापन
Sholay how a new grammer was invented
ख़बर सुनें
'शोले' मसाला फिल्म थी, पश्चिम की 'स्पैगेटी वैस्टर्न' जैसी। वैश्विक सिनेमा मे 'कल्ट क्लासिक' का दर्जा पा चुकी यह फिल्म कथानक के स्तर पर पश्चिमी सिनेमा से जितनी प्रभावित थी, उतनी ही भारतीय महाकाव्यों, किंवदंतियों और कथा-रुढ़ियों से। बाल्मिकी रामायण में ऋषि विश्वामित्र ने राक्षसों के दमन के लिए राम और लक्ष्मण का सहयोग लिया था, सलीम-जावेद और रमेश सिप्पी की 'शोले' में ठाकुर बलदेव सिंह ने डाकू गब्बर सिंह को मारने के लिए जय और वीरू का।
विज्ञापन


40 वर्षों तक 'शोले' ने अपनी रोचकता बरकरार रखी है तो इसका बड़ा कारण मुहावरों का रूप ले चुके इसके संवाद और लोककथाओं में तब्दील हो गए उपकथानक हैं। 'शोले' एक्शन, कॉमेडी, रोमांस, ड्रामा और मेलोड्रामा का मिश्रण है। यह दावा करना कठिन है कि यह भारत की पहली मसाला फिल्म है, लेकिन यह सोलह आना सच है कि यह भारत की सर्वाधिक लोकप्रिय मसाला फिल्म है। थियेटरों में चलने और कमाई, दोनों ही स्तर पर भारत में बनी कोई भी फिल्म 'शोले' के आसपास नहीं ठहरती।


'शोले' ने इंडियन न्यू वेव के बरअक्स मुख्य धारा के हिंदी सिनेमा में नए युग की शुरुआत की। शेखर कपूर ने एक साक्षात्कार में कहा था कि भारतीय सिनेमा के इतिहास को 'बिफोर शोले' और 'आफ्टर शोले' दो युगों में बांटा जा सकता है।

संवाद, संगीत, तकनीक और विधा के मायनों में शोले ने मील के पत्थर बना दिए। अमेरिका और यूरोपीय सिनेमा के मशहूर जॉनर 'स्पैगेटी वेस्टर्न' की तर्ज पर शोले ने भारत में 'करी वेस्टर्न' फिल्मों का चलन शुरु किया। मल्टी स्टारर फिल्मों का नया दौर शुरु हुआ। शोले ने हिंदी सिनेमा को नया व्याकरण दिया।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

हिंदी सिनेमा का 'नया विलेन'

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X