विज्ञापन

गुरूग्राम : 'F1 इन स्कूल्स इंडिया' के राष्ट्रीय फाइनल में दिखा बच्चों का कौशल

ब्यूरो/अमर उजाला, गुरुग्राम Updated Sun, 14 Jan 2018 11:14 AM IST
fi in school
fi in school - फोटो : लाल सिंह
ख़बर सुनें
विज्ञान, तकनीक और गणित की जुगलबंदी और स्कूली छात्रों का जबरदस्त कौशल आज गुरूग्राम स्थित एम्बियांस मॉल में बखूबी देखने को मिला। मौका था एफ1 इन स्कूल्स एवम् टाइम ऑफ स्पोर्ट्स द्वारा आयोजित एफ 1 इन स्कूल्स के राष्ट्रीय फाइनल का। इस प्रतियोगिता में देश के विभिन्न हिस्सों से लगभग 45 से अधिक स्कूलों के 700 से अधिक छात्रों ने शिरकत की और स्कूलों में फार्मूला 1 के व्यापक अंदाज का अनुभव किया।
विज्ञापन
विज्ञापन
 
मॉल के अन्तर्गत बनाया गया लगभग 25 मीटर एफ1 इन स्कूल ट्रेक मॉल में आये लोगों के लिए आकर्षण का केन्द्र था। अपने आप में अलग अनुभव प्रदान करते हुए इस प्रतियोगिता के प्रति लोगों की उत्सुकता बहुत जबरदस्त थी और उन्होंने प्रतिभागियों से बातचीत करते हुए जानकारी प्राप्त भी की।

लोगों ने उनका उत्साह बढ़ाया और इस वर्ष सिंगापुर में होने वाले एफ1 इन स्कूल्स वर्ल्ड फाइनल में जगह बनाने हेतु शुभकामनाएं दी। एफ1 इन स्कूल्स स्कूली बच्चों (आयु वर्ग 9-19) के एक अंतर्राष्ट्रीय स्टेम (विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग, गणित) प्रतियोगिता है, जिसमें 3-6 सदस्य छात्र समूह कैड/कैम डिजाइन टूल का उपयोग करते हुए आधिकारिक एफ 1 मॉडल ब्लॉक के आधार पर लघु कार का निर्माण करते हैं।
 
पहली ही बार इस प्रतियोगिता को भारत लाने और अपनी ही तरह की तकनीकी प्रतियोगिता के विषय में टाईम्स ऑफ स्पोर्टस के प्रमुख कार्यकारी अधिकारी व संस्थापक यशराज सिंह ने कहा कि भारत में यह चुनौति लाना अपने आप में एक बहुत व्यापक अवसर है जिससे कि सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्था में युवा साइंटीफिक दिमागों की खोज करने व पहचानने के अवसर खुलेंगे।
 
प्रतियोगिता के लिए मॉल में एफ1 इन स्कूल्स शोकेस, डिजाइन व मेक क्षेत्र था, जहां विद्यार्थियों ने लाइव डेमोनस्ट्रेशन प्रस्तुत करते हुए आगंतुकों को दर्शाया कि किस तरह से मिनीएचर कार को बनाया, डिजाइन एवम् टेस्ट किया जाता है।
 
एफ1 इन स्कूल्स वर्ल्ड में दुनिया भर में 44 से अधिक देशों में शामिल है, और हर साल 20 लाख से अधिक छात्र प्रतियोगिता में हिस्सा लेते हैं। यह पहली बार है कि प्रतियोगिता भारत में आयोजित की जा रही है और वैश्विक मंच पर अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन करने के लिए पूरे देश के विद्यार्थियों से अवसर प्रदान किया गया है।
 
अलग-अलग आयु वर्ग के छात्रों ने अतिरिक्त 3 डी-मुद्रित घटकों के साथ बालसा की लकड़ी या मॉडल फोम से बना लघु फॉर्मुला 1 रेस कारों को तैयार और निर्मित किया था और सीओ 2 संकुचित गैस का इस्तेमाल करते हुए इनको दौड़ाया गया जो 25 मीटर की दूरी तय करती थी। बेहतरीन रेसिंग ट्रैक पर एफ 1 मिनी कार रेसिंग का उत्साह जबरदस्त अवसर था।
 
‘‘श्री सिंह ने बताया, इस तरह की कार बनाना और उन्हें प्रतियोगिता के तौर पर दर्शाने में बहुत मेहनत लगती है और बहुत सारे जटिल वायुगतिकी को ध्यान में रखना होता है; जो फॉर्मूला 1 में भी आता है क्योंकि छात्रों को इसी तरह की चुनौतियों का सामना करना पड़ता है जो असली फॉर्मूला 1 टीम हैं।

विद्यार्थियों ने अपनी साक्षरता, संख्यात्मकता, खेल और खेल विज्ञान, डिजाइन और प्रौद्योगिकी, कला और डिजाइन, वस्त्र ज्ञान, स्टेम सीखने, कंप्यूटिंग, और व्यवसाय और उद्यम को बेहतर बनाने वाले विषयों के साथ संलग्न हैं। नतीजतन, इस कार्यक्रम में छात्रों की वास्तविक उद्यमी कौशल विकसित होती है, जो अनिवार्यतः घंटे की जरुरत है।’’
 
भारत का राष्ट्रीय विजेता 2018 में सिंगापुर में विश्व फाइनल में दुनिया भर से 44 अन्य टीमों के साथ प्रतिस्पर्धा करेगा। स्कूलों में फॉर्मूला 1 का सीजन 2 सदस्य स्कूलों में फॉर्मूला 1 क्लब के साथ प्रमुख होगा।

Recommended

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें
त्रिवेणी संगम पूजा

कुंभ मेले में अतुल धन, वैभव, समृधि प्राप्ति हेतु विशेष पूजा करवायें और प्रसाद की होम डिलीवरी पायें

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Delhi NCR

लोनी में छह वर्षीय बच्ची की हत्या, रात को हुई थी लापता सुबह मिला शव

लोनी कोतवाली क्षेत्र की एक कालोनी निवासी छह वर्षीय बच्ची की हत्या कर दी गई। बच्ची सोमवार रात संदिग्ध हालात में लापता हो गई थी, उसका शव सुबह घर के पास पड़ा मिला। पिता ने अपहरण के बाद हत्या किए जाने की बात कही।

23 जनवरी 2019

विज्ञापन

राजधानी नई दिल्ली में बदमाश बेखौफ, सरेआम की फायरिंग

देश की राजधानी नई दिल्ली में पुलिस अक्सर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था होने का दावा करती है, लेकिन दूसरी ओर अपराधी आए दिन कोई न कोई वारदात अंजाम दे देते हैं।

20 जनवरी 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree