चुनावी राजनीति में फंसा आम आदमी

अमर उजाला, गुड़गांव Updated Fri, 24 Jan 2014 05:45 PM IST
lok sabha election
गुड़गांव में आयुध डिपो के प्रतिबंधित 900 मीटर दायरे में रहने वालों की समस्याओं पर राजनीति शुरू हो गई है।

राजनैतिक लाभ उठाने को विपक्षी दल तो सक्रिय थे ही, अब उसी राह पर कांग्रेस भी चल पड़ी है। उसने इलाके में रहने वालों को बुनियादी सुविधाएं दिलाने के नाम पर आंदोलन शुरू कर दिया है। लेकिन इसके साथ आलोचनाओं का भी दौर शुरू हो गया है।

यह भी पढ़ें:AAP का भरोसा हुआ कम, चंदे से लोगों ने हाथ खींचा


भाजपा के बाद अब इनेलो ने इसकी खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि चुनाव नजदीक आते ही कांग्रेस घड़ियाली आंसू बहाने का नाटक करने लगी है। इनेलो का कहना है कि कांग्रेस राज में आयुध डिपो के आसपास बसे लोगों का नौ वर्षों से जीना दूभर है। लोगों के जीवन की गाढ़ी कमाई खतरे में है। अब सरकार और कांग्रेस मीठी बातें कर लोगों को बरगलाने में लगी है।

यह भी पढ़ें: सर्वे में 'आप' की जीत से समर्थकों में उत्साह


इनेलो के वरिष्ठ नेता गोपीचंद गहलोत ने आयुध डिपो के लोगों को कांग्रेस के प्रति सचेत करते हुए आश्वासन दिया है कि ओमप्रकाश चौटाला के नेतृत्व में सरकार बनने पर उन्हें बिजली, पानी, सीवर जैसी तमाम बुनियादी सुविधाएं दी जाएंगी।

उल्लेखनीय है कि प्रतिबंधित क्षेत्र में रहने वालों को ये सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। गहलोत ने कहा कि इस घनी आबादी में मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए इनेलो के प्रयासों के बाद सर्वोच्च न्यायालय ने इसे तुरंत प्रभाव से उपलब्ध कराने की हिदायत दी थी। इसके बावजूद कांग्रेस सरकार और कांग्रेस संगठन सुविधाएं देने के बदल उनके जख्म कुरेद रही है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

गुरुग्राम में धारा 144 लागू, ‘पद्मावत’ देखने जाने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

फिल्म 'पद्मावत' की रिलीज को लेकर हो रहे हिंसक प्रदर्शन और विवाद को देखते हुए गुरुग्राम में धारा 144 लगा दी गई है।

24 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls