लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun ›   Uttarakhand News: More than 300 SIM cards issued in Haridwar and Udham Singh Nagar on fake ID

एसटीएफ की जांच में खुलासा: फर्जी आईडी पर हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में 300 से ज्याद सिम कार्ड जारी

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Published by: अलका त्यागी Updated Thu, 22 Sep 2022 09:40 PM IST
सार

बाजपुर में आठ दुकानदारों के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। जबकि, मंगलौर में मुकदमा अज्ञात के खिलाफ है। साइबर थाना पुलिस दोनों मामलों में जांच कर रही है।

सिम कार्ड(प्रतीकात्मक तस्वीर)
सिम कार्ड(प्रतीकात्मक तस्वीर) - फोटो : istock
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

फर्जी आईडी पर हरिद्वार और ऊधमसिंह नगर में 300 से ज्यादा सिम कार्ड जारी कर दिए गए। इसका खुलासा तब हुआ जब केंद्रीय दूर संचार विभाग की ओर से एसटीएफ और वोडाफोन-आइडिया कंपनी को पत्र मिला। एसटीएफ की प्राथमिक जांच के आधार पर हरिद्वार के मंगलौर और ऊधमसिंह नगर के बाजपुर में मुकदमा दर्ज किया गया है।



बाजपुर में आठ दुकानदारों के खिलाफ केस दर्ज हुआ है। जबकि, मंगलौर में मुकदमा अज्ञात के खिलाफ है। साइबर थाना पुलिस दोनों मामलों में जांच कर रही है। एसएसपी एसटीएफ अजय सिंह ने बताया कि पिछले दिनों केंद्रीय दूर संचार विभाग ने फर्जी आईडी पर सिम कार्ड जारी करने के संबंध में एसटीएफ को पत्र लिखा था। एसटीएफ ने जांच की तो पता चला कि यह सारे सिम कार्ड वोडाफोन-आइडिया कंपनी के हैं।


Uttarakhand: 27 लाख की ठगी में नाइजीरियन के साथ नागालैंड की महिला गिरफ्तार, खुद को बताया था आरबीआई का अधिकारी

कंपनी के प्रतिनिधियों के माध्यम से जब जांच की गई तो पता चला कि कस्टमर एप्लीकेशन फार्म (सीएएफ) पर फोटो भी फर्जी लगाए गए हैं। इस संबंध में वोडाफोन-आइडिया कंपनी से भी जवाब तलब किया गया। पिछले दिनों कंपनी के अधिकारियों की ओर से मंगलौर थाने में मुकदमा दर्ज कराया गया था। जांच में पता चला कि मंगलौर क्षेत्र में 166 सिम कार्ड फर्जी आईडी पर जारी किए गए हैं।

इसी तरह ऊधमसिंह नगर के बाजपुर क्षेत्र में भी जांच की गई तो पता चला कि यहां फर्जी आईडी पर 178 सिम कार्ड जारी किए गए हैं। यानी आईडी किसी की तो फोटो किसी और का लगा हुआ है। बृहस्पतिवार को बाजपुर थाने में आठ दुकानदारों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

ये सिम कार्ड मनोज किराना (फिदा नगर, केला खेड़ा, ऊधमसिंह नगर), सरना कम्यूनिकेशन (हल्द्वानी रोड, गुरुनानक मार्केट, बाजपुर, ऊधमसिंह नगर), दुर्गा टेलीकॉम (रायपुर, सेमघाट, दिनेशनपुर, ऊधमसिंह नगर), कांबोज किराना स्टोर (बैंतखेड़ी रोड, जोगीपुरा, बाजपुर, ऊधमसिंह नगर), कांबोज मोबाइल (इटव्वा, बाजपुर, ऊधमसिंह नगर), योगल कंप्यूटर एंड गैलरी (बेरिया रोड, बाजपुर, ऊधमसिंह नगर), मोंटू मोबाइल (बेरिया रोड, बाजपुर, ऊधमसिंह नगर) और गोयल कंप्यूटर एंड मोबाइल गैलरी (बेरिया रोड, बाजपुर, ऊधमसिंह नगर) की ओर से जारी किए गए हैं।

ठगी और संगठित अपराधों में इस्तेमाल होते हैं ऐसे सिम कार्ड

फर्जी आईडी पर जारी सिम कार्ड का इस्तेमाल अधिकांश संगठित अपराध में शामिल लोग करते हैं। कई मामलों में ऐसे अपराधी पकड़े गए हैं, जिन्होंने फर्जी आईडी पर सिम लेकर वारदात को अंजाम दिया है। हालांकि, मौजूदा वक्त में साइबर ठगी में बड़े पैमाने पर फर्जी आईडी के सिम कार्ड का इस्तेमाल किया जा रहा है। ताकि, पुलिस जब जांच करे तो वह सिम कार्ड की आईडी वाले ग्राहक के पास पहुंचे। जबकि, इसे इस्तेमाल कोई और कर रहा होता है। 


षड्यंत्र में एक गिरोह के शामिल होने की संभावना

एसटीएफ के अधिकारियों के मुताबिक फर्जी आईडी पर सिम कार्ड जारी करने के काम में कोई गिरोह भी शामिल हो सकता है। यह सारे सिम कार्ड प्रीपेड श्रेणी के हैं। एक समयावधि के भीतर ही यह सिम जारी कराए गए हैं। ऐसे में हो सकता है कि इनके द्वारा लोगों को ठगा जा रहा हो। एसटीएफ इस गिरोह के सदस्यों को पकड़ने का भी प्रयास कर रही है। जल्द ही कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जाएगी।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00