पूर्व फौजियों के लिए यहां खुला सहायता केंद्र

ब्यूरो/अमर उजाला, चंडीगढ़ Updated Wed, 29 Jan 2014 01:16 PM IST
Help Center in Army Western Command Chandigarh
आर्मी की पश्चिमी कमान की ओर से पूर्व फौजियों के लिए शुरू किए गए सहायता केंद्र का उद्घाटन कमान के जीओसी लेफ्टिनेंट जनरल फिलिप कैंपोस ने किया। यह सहायता केंद्र वेस्टर्न कमांड के सभी महत्वपूर्ण स्टेशनों पर शुरू किए गए हैं।

सभी स्टेशन वेस्टर्न कमांड के मुख्य सर्वर से कनेक्ट रहेंगे। इसके लिए टोल फ्री नंबर और वेबसाइट भी लांच किए गए। नंबर मिलाते ही पूर्व फौजियों की शिकायत दर्ज हो जाएगी और उसे जल्द से जल्द से हल करवाने की कोशिश रहेगी।

जनरल फिलिप ने बताया कि सहायता केंद्र एक्स सर्विसमैन और उन एजेंसियों के बीच की कड़ी साबित होंगी, जिनकी समस्याएं एजेंसियों के माध्यम से सुलझनी है। भारतीय सेना एक्स सर्विसमेन को बेहतरीन सुविधा देने के लिए प्रतिबद्ध है।

इन सैनिकों ने देश को अपने महत्वपूर्ण दिन दिए हैं। एक्स सर्विसमैन की सबसे ज्यादा दिक्कतें पेंशन और उनके पुनर्विस्थापित को लेकर होती है।

समारोह के दौरान मेजर जनरल एके सिंह ने सहायता केंद्र की कार्यप्रणाली के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

इस मौके पर मौजूद बैंक अधिकारियों से उन्होंने अपील की कि वे सहायता केंद्र की ओर दी जाने वाली समस्याओं पर तेजी से काम करें।

कार्यक्रम के दौरान पंजाब सैनिक वेलफेयर पंजाब के डायरेक्टर ब्रिगेडियर मंजीत सिंह व बैंक के कई अधिकारी मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

स्वास्थ्य कर्मचारियों को मिलेगा दोगुना वेतन, दिल्ली सरकार देने जा रही है तोहफा

सरकार ने इन कर्मचारियों का वेतन दोगुना करने के साथ-साथ हर साल चिकित्सीय अवकाश के तौर पर 15 दिन की छुट्टी देने का फैसला लिया है।

23 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: चंडीगढ़ का ये चेहरा देख चौंक उठेंगे आप!

‘द ग्रीन सिटी ऑफ इंडिया’ के नाम से मशहूर चंडीगढ़ में आकर्षक और खूबसूरत जगहों की कोई कमी नहीं है। ये शहर आधुनिक भारत का पहला योजनाबद्ध शहर है। लेकिन इस शहर को खूबसूरत बनाये रखने वाले मजदूर कैसे रहते हैं यह देख आप हैरान हो जायेंगे।

22 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper