Hindi News ›   Bihar ›   Munger Firing Case, public says ips lipi singh is responsible for firing in munger

बिहारः मुंगेर में फायरिंग पर बवाल, इस महिला अफसर पर लग रहे गोली चलवाने के आरोप

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, मुंगेर Published by: संजीव कुमार झा Updated Tue, 27 Oct 2020 08:10 PM IST
IPS Lipi Singh
IPS Lipi Singh - फोटो : social media
विज्ञापन
ख़बर सुनें

बिहार के मुंगेर में बीती रात दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान एक शख्स की मौत के बाद से बवाल मचा हुआ है। लोग सड़क पर प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं इस बीच अब एक वीडियो सामने आया है। जिसमें लोग आईपीएस लिपि सिंह के इशारे पर गोलियां चलवाने के आरोप लगा रहे हैं।



इस घटना से संबंधित एक वीडियो भी सामने आया है। जिसमें एक व्यक्ति मामले के संबंध में बता रहा है कि पुलिस वालों ने घटना की जानकारी किसी मैडम को दी। शख्स ने कहा कि वो शायद पुलिस कप्तान होगी। उन्होंने आगे कहा कि फिर उस तरफ से पुलिस कर्मियों को दंडात्मक कार्रवाई को आगे बढ़ाने का निर्देश मिला और फिर पुलिस ने हवाई फायरिंग की। जिसके बाद एक व्यक्ति की मौत हो गई। 


इस घटना से संबंधित एक वीडियो भी सामने आया है। जिसमें एक व्यक्ति मामले के संबंध में बता रहा है कि पुलिस वालों ने घटना की जानकारी किसी मैडम को दी। शख्स ने कहा कि वो शायद वो पुलिस कप्तान होगी। उन्होंने आगे कहा कि फिर उस तरफ से पुलिस कर्मियों को दंडात्मक कार्रवाई को आगे बढ़ाने का निर्देश मिला और फिर पुलिस ने हवाई फायरिंग की। जिसके बाद एक व्यक्ति की मौत हो गई। 

यह वीडियो राजद नेता अपूर्व यादव के द्वारा साझा की गई है। अमर उजाला इस वीडियो की सच्चाई की पुष्टि नहीं करता है।

 

जानिए कौन हैं लिपि सिंह जो रहती हैं हमेशा चर्चा में  
लिपि सिंह इस समय मुंगेर की एसपी हैं। उनके पिता एवं जदयू नेता आरसीपी सिंह, राज्यसभा सांसद और सीएम नीतीश कुमार के बेहद खास लोगों में से एक हैं और यही वजह है कि लिपि राजनीति के क्षेत्र में चर्चा की विषय बनी रहती हैं। लिपि सिंह हमेशा अपने कड़क मिजाज को लेकर चर्चा में रहती हैं।

लिपि सिंह पिछले साल उस समय और अधिक चर्चा में तब आ गई थी जब उन्होंने मोकामा के बाहुबली विधायक अनंत सिंह के खिलाफ कार्रवाई की और उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। वहीं उनके पति सुहर्ष भगत भी आईएएस हैं और फिलहाल बांका के डीएम हैं।

क्या है मामला
विधानसभा चुनाव को देखते हुए प्रशासन ने 26 अक्तूबर की शाम तक मूर्ति विसर्जन का आदेश दिया था। पुलिस ने बताया कि मुंगेर में पंडित दीन दयाल चौक के पास शंकरपुर के मूर्ति विसर्जन के लिए प्रशासन ने आदेश दिया था। इसे लेकर पुलिस और स्थानीय लोगों में कहासुनी हो गई। इतने में किसी ने फायरिंग कर दी। 

पुलिस के मुताबिक गोली लगने से 18 वर्षीय अनुराग कुमार ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। फायरिंग में पांच अन्य लोग भी घायल हुए, जिन्हें इलाज के लिए मुंगेर के सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। 

वहीं स्थानीय लोगों का आरोप है कि पुलिस की फायरिंग में युवक की मौत हुई है। घटना के बाद किसी अनहोनी की आशंका को देखते हुए दीन दयाल चौक और आसपास के इलाके को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया है। 

मुंगेर के डीएम राजेश मीणा ने कहा कि दुर्गा पूजा के विसर्जन के समय कुछ शरारती तत्वों के द्वारा रोड़े बाजी की घटना हुई। इसके साथ ही पुलिस पर गोली चलाई गई। जिसकी वजह से कई पुलिसकर्मी घायल हुए हैं और एक व्यक्ति की मौत हो गई।
 
 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00