बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
TRY NOW

रामनगरी में उमड़ा आस्था का सैलाब

अमर उजाला ब्यूरो/अयोध्या Updated Wed, 17 Aug 2016 11:38 PM IST
विज्ञापन
लक्ष्मण किला में भजन गाते संत।
लक्ष्मण किला में भजन गाते संत। - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
रामनगरी में प्रसिद्ध सावन झूला मेले के अंतिम पर्व श्रावण पूर्णिमा की पूर्व संध्या पर बुधवार को देश के कोने-कोने से लाखों की संख्या में श्रद्धालुओं का तांता लगा हुआ है। प्रसिद्ध कनक भवन, श्रीराम बल्लभाकुंज, लक्ष्मण किला, सद्गुरु सदन, विअहुति भवन, जानकी महल ट्रस्ट, रामहर्षण कुंज समेत अन्य मंदिरों में झूलनोत्सव का उल्लास चरम पर है।
विज्ञापन


गुरुवार को मेले के मुख्य पर्व पूर्णिमा पर स्नान, दान के लिए लाखों की संख्या में श्रद्धालु देर शाम तक ठौर ले चुके हैं। भारी भीड़ के बढ़ते दबाव को देखते हुए मेला क्षेत्र में यातायात प्रतिबंध लागू कर सुरक्षा इंतजाम सख्त कर दिए गए हैं। श्रावणी तीज तिथि 5 अगस्त से आरंभ हुआ सावन झूला मेला दिन गुजरने के साथ ही परवान चढ़ता गया।


मठ-मंदिरों में आयोजित झूलनोत्सव पर्व में शामिल होने के लिए श्रद्धालुओं की भीड़ का नगरी में आने व जाने का क्रम बना रहा। मठ-मंदिरों में देर शाम से रात तक चलने वाले धार्मिक व सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आकर्षण श्रद्धालुओं के सिर चढ़कर बोलने लगा है। रामनगरी जश्न में डूब गई है।

सरयू तट स्थित विअहुति भवन, सद्गुरु सदन, लक्ष्मण किला, श्रीराम वल्लभाकुंज, श्रीमणिराम दास की छावनी, विवादित परिसर से सटे रंगमहल आदि मंदिरों में गीत-संगीत व नृत्य के बीच कार्यक्रम में आराध्य की आराधना के साथ आनंद में संत व श्रद्धालु डूबे हुए हैं।

मेले के मुख्य पर्व में स्नान-दान आदि उपाकर्म के लिए मंगलवार की शाम से ही श्रद्धालुओं की भीड़ जुटने लगी। बुधवार को श्रावण पूर्णिमा स्नान व दर्शन के लिए मेले में तीर्थयात्रियों का जमावड़ा होने लगा। श्रद्धालु मठ-मंदिरों व धर्मशालाओं में ठहरने लगे हैं।

सुबह से सरयू स्नान के साथ प्रमुख मंदिरों नागेश्वरनाथ, हनुमानगढ़ी, कनक भवन, श्रीराम जन्मभूमि आदि मंदिरों में दर्शन-पूजन के लिए दर्शनार्थियों की भीड़ दिन भर लगी रही। सुबह से रुक-रुक कर हो रही बारिश से श्रद्धालुओं की आस्था नहीं डिगी।

स्नान घाट से मठ-मंदिरों की चौखट तक श्रद्धालुओं की लंबी कतारें लगी हुई थीं। एसपी सिटी संकल्प शर्मा ने बताया कि श्रद्धालुओं की भारी भीड़ के मद्देनजर मेला प्रशासन ने मेला क्षेत्र में यातायात प्रतिबंधित कर दिया। चार पहिया वाहनों के आवागमन पर पूरी तरह रोक लगा दी गई है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X