श्रीजेश और रानी को मिली पूरे साल तक हॉकी टीमों की कमान

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला Updated Sat, 28 Apr 2018 02:42 AM IST
पीआर श्रीजेश और रानी रामपाल
पीआर श्रीजेश और रानी रामपाल - फोटो : thehindu
ख़बर सुनें
हॉकी इंडिया ने साल के अंत तक पीआर श्रीजेश को पुरुष और रानी रामपाल को महिला टीम की कमान सौंप दी है। श्रीजेश चोट से उबरने के बाद फिर से कप्तान बने हैं जबकि रानी 2018 में सभी टूर्नामेंटों में कप्तान रहेंगी जिसमें जुलाई में होने वाले विश्व कप और जर्काता में होने वाले एशियाई खेल शामिल हैं। 
श्रीजेश को 2016 में चैंपियंस ट्रॉफी में कप्तानी दी गई थी जब भारत ने रजत पदक जीता था। इसके अलावा 2016 में जूनियर विश्व कप में विकास दहिया और कृष्ण पाठक के मेंटर रहे जब भारत ने खिताब जीता था। पिछले साल सुल्तान अजलान शाह कप में उन्हें घुटने में चोट लगी। श्रीजेश जनवरी में न्यूजीलैंड में हुए चार देशों के आमंत्रण टूर्नामेंट से टीम में लौटे। भारतीय टीम यहां दूसरे स्थान पर रही। 

उधर रानी की कप्तानी में भारतीय महिला टीम ने एशिया कप जीता। टीम 12वें से दसवें स्थान पर पहुंचीं। गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में 12 साल में पहली बार टीम सेमीफाइनल में पहुंची। हॉकी इंडिया के महासचिव मोहम्मद मुश्ताक अहमद का कहना है कि वर्ष भर के लिए सभी टूर्नामेंटों के लिए एक कप्तान बनाने के पीछे मकसद टीम में स्थायित्व लाना है। 

RELATED

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all Sports news in Hindi related to live update of Sports News, live scores and more cricket news etc. Stay updated with us for all breaking news from Sports and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Hockey

महिला हॉकी टीम एशियन चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में, मलेशिया को हराकर लगाई जीत की हैट्रिक

गत चैंपियन भारतीय महिला हॉकी टीम ने मलयेशिया को 3-2 से हराकर एशियन चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में जगह बना ली है।

18 मई 2018

Related Videos

VIDEO: विराट कोहली ने किया नरेंद्र मोदी को चैलेंज

विराट कोहली ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, पत्नि अनुष्का शर्मा और महेंद्र सिंह धोनी को एक चैलेंज दिया है। इससे पहले केंद्रीय मंत्री राज्यवर्धन राठौड़ ने विराट को ये चैलेंज दिया था जो विराट ने आगे बढ़ाया है। देखिए क्या है वो चैलेंज।

23 मई 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen