लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Rajasthan ›   Father-in-law beat daughter-in-law with iron rod People of Pehar side made serious allegations

Crime: ससुर कयामुद्दीन ने बहू शहनाज को लोहे की रॉड से पीटा, पीहर पक्ष के लोगों ने लगाए गंभीर आरोप

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, बीकानेर Published by: अरविंद कुमार Updated Fri, 14 Oct 2022 02:52 PM IST
सार

राजस्थान के बीकानेर में एक ससुर ने अपनी बहू की निर्दयता पूर्वक पिटाई की। ससुर ने बहू को लोहे की रॉड से पीटा। ससुर ने इतनी पिटाई किया कि बहू के शरीर में कई जगहों पर चोट के निशान दिखने लगे।

पीड़ित महिला
पीड़ित महिला - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

बीकानेर जिले के कोटगेट थाना एरिया में एक बुजुर्ग ससुर ने अपनी बहू की निर्दयता पूर्वक पिटाई की है। मामला कोटगेट थाना एरिया के तहत आने वाले फड़ बाजार इलाके के हिरण बाजो मोहल्ले का है। ससुर जब मारपीट कर रहा था, उसी दौरान बहू ने मोबाइल से वीडियो भी बना लिया था।



बता दें कि ससुर का नाम कयामुद्दीन और बहू का नाम शहनाज है। बहू का आरोप है कि ससुर उसे घर से बाहर निकालना चाहता है। इसी वजह से उसके साथ मारपीट की जाती है। वहीं, बहू के पीहर पक्ष के लोग कोटगेट थाने पहुंचकर आरोपी ससुर को गिरफ्तार करने की मांग किए। पीहर पक्ष के लोगों ने बताया, उनकी बेटी के साथ पहले भी तीन चार बार मारपीट हो चुकी है। पुलिस थाने जाते थे, लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं होती थी। हर बार समझाइश और हिदायत देकर मामला शांत करवा दिया जाता था।


उन लोगों ने बताया, ससुर ने इस बार मारपीट करने की हद पार कर दी। लोहे की रॉड से बेटी के ऊपर कई बार वार किया। यह तो गनीमत रही की बेटी ने एक कमरे में घुसकर अंदर से गेट बंद कर लिया। फिलहाल, आरोपी ससुर के खिलाफ मुकदमा दर्ज हो गया है। पीड़िता को गर्भवती भी बताया जा रहा है। 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00