मोदी सरकार के चार फैसले जिनसे 2017 में आसान होगा लेन-देन

टीम डिजिटल/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sat, 31 Dec 2016 04:22 PM IST
4 demonetisation moves made by government yesterday that could make your 2017 look less painful
- फोटो : Getty Images
विज्ञापन
ख़बर सुनें
50 दिनों तक हर रोज नियमों में बदलाव और ऊहापोह की स्थिति के बाद साल के अंत तक नोटबंदी के बाद नियमों को लेकर बनी भ्रम की स्थिति खत्म होने लगी है और साथ ही नियम-कायदे थोड़े स्पष्ट होने लगे हैं। पिछले 24 घंटे में सरकार के कुछ फैसलों ने स्थिति को स्थायित्व दिया है और अव्यवस्था के हालात दूर हुए हैं। पढ़िए मोदी सरकार ने इन चार फैसलों के बारे में...
विज्ञापन


1. एटीएम से पैसा निकालने की सीमा बढ़ी
आने वाले साल में अब आप एटीएम से 2,500 के बजाय 4,500 रुपये निकाल सकेंगे। हालांकि साप्ताहिक रूप से पैसे निकालने की सीमा में अभी कोई बदलाव नहीं हुआ है। इसके साथ ही भारतीय रिजर्व बैंक ने बैंकों से एटीएम मशीनों में पैसा 500 रुपये के नए नोटों में रखने को कहा है। इससे पहले तक एटीएम से पैसा निकालने पर 2000 रुपये के नए नोट मिलते थे। 


 

2. एनआरआई के लिए बढ़ी पैसा जमा करने की तारीख 
राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने शुक्रवार को नोटबंदी के अध्यादेश पर हस्ताक्षर किए। इसके बाद एनआरआई के लिए अमान्य नोटों को जमा करने की तारीख 30 दिसबंर के आगे बढ़ा दी गई। गौरतलब है कि 30 दिसबंर ही पैसा जमा करने की आखिरी तारीख थी। अब एनआरआई 30 जून 2017 तक आरबीआई की शाखाओं में 25,000 रुपये जमा कर सकते हैं। 8 नवंबर से 30 दिसंबर के बीच विदेश रहे भारतीयों 31 मार्च तक 25 हजार रुपये जमा कर सकते हैं। 

 

Narendra Modi DeMonetisation
Narendra Modi DeMonetisation - फोटो : Getty Images
3. BHIM ऐप 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को यूनिफाइड पेमेंट ऐप (यूपीआई) लॉन्च किया। यह एप्लीकेशन सभी बैंकों और वित्त संस्थाओं के लिए उपयोग में आ सकता है। लिहाजा इसका नाम BHIM (भारत इंटरफेस फॉर मोबाइल) रखा गया है। BHIM ऐप के जरिए लोग लेन देन कर सकेंगे। इसके लिए आपको अपना अकाउंट इस ऐप के साथ जोड़ना पड़ेगा और यूपीआई पिन नंबर हासिल करना होगा।  यूएसएसडी (अनस्ट्रक्चर्ड सप्लीमेंट्री सर्विस डाटा) प्लेटफॉर्म के जरिए यह ऐप फीचर फोन पर भी काम करेगा। 

 

4. आरबीआई ने मोबाइल वॉलेट लिमिट बढ़ाई
भारतीय रिजर्व बैंक ने मोबाइल वॉलेट में 20,000 रुपये रखने के लिए राशि सीमा बढ़ा दी है, जब तक केंद्रीय बैंक प्री-पेड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट की गाइडलाइन की समीक्षा करेगा। 22 नवंबर को रिजर्व बैंक ने प्री-पेड वॉलेट और कॉर्ड में पैसा रखने की लिमिट दोगुनी कर दी। आरबीआई ने कहा कि व्यापारी सेमी-क्लोज्ड पेमेंट इंस्ट्रूमेंट के जरिए अपने अकाउंट में 50,000 रुपये ट्रांसफर कर सकते हैं। इन सभी नियमों 30 दिसबंर तक लागू थे, लेकिन अब इनकी सीमा बढ़ा दी गई है। 
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00