मां ने घुट्टी में घोलकर पिलाई एक्टिंग, इन 10 किरदारों से रत्ना पाठक ने साबित किया अपने डीएनए का दम

एंटरटेनमेंट डेस्क, अमर उजाला Published by: प्रतीक्षा राणावत Updated Wed, 18 Mar 2020 08:58 AM IST
रत्ना पाठक शाह
1 of 11
विज्ञापन
मशहूर अभिनेत्री दीना पाठक के घर जन्मीं रत्ना पाठक सिनेमा जगत की उन गिनी चुनी अभिनेत्रियों में से हैं जो हिंदी सिनेमा में पिछले चार दशकों से हैं। मशहूर अभिनेता नसीरुद्दीन शाह की वह पत्नी हैं। इमाद और विवान जैसे होनहार कलाकारों की मां हैं। और, थियेटर से लेकर टीवी और फिल्मों तक हर जगह अपने नाम का डंका बजा चुकी हैं। 18 मार्च 1957 को पैदा हुईं रत्ना पाठक ने दर्जनों बेहतरीन किरदार निभाए हैं जिनमें से चुनिंदा 10 किरदार हम आपके सामने पेश कर रहे हैं।
Mirch Masala
2 of 11
किरदार- फैक्ट्री वर्कर
फिल्म- मिर्च मसाला (1987)

इस फिल्म में रत्ना पाठक ने अपनी मां दीना पाठक के साथ काम किया है। नसीरुद्दीन शाह भी यहां एक घमंडी सूबेदार के तौर पर दिखाई देते हैं जिसकी बुरी नजर स्मिता पाटिल पर होती है। फिल्म में रत्ना पाठक ने एक फैक्ट्री में काम करने वाली महिला का किरदार निभाया है। रत्ना इससे पहले कभी इस तरह के किरदार में नहीं देखी गई थी। इसमें उन्होंने जिस तरह से एक आम औरत का किरदार निभाया है उसने सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा।  केतन मेहता निर्देशित यह एक साइकोलॉजिकल थ्रिलर फिल्म है। फिल्म की कहानी आजादी के समय से भी पहले की है।
विज्ञापन
Naseeruddin Shah and Ratna Pathak
3 of 11
किरदार- प्रतिमा घोटे
फिल्म- द परफेक्ट मर्डर (1988)

यह रत्ना पाठक की चौथी फिल्म थी जिसमें नसीरुद्दीन शाह, अमजद खान, स्टेलान स्कार्सगार्ड, अन्नू कपूर और मधुर जाफरी मुख्य किरदारों में थे। इसमें रत्ना पाठक का कोई बड़ा किरदार तो नहीं था लेकिन अपने करियर के शुरुआती दौर में ही उन्होंने जिस अभिनय का परिचय दिया वह काबिलेतारीफ था। फिल्म की पूरी कहानी एक हत्या की छानबीन के इर्द गिर्द घूमती है जिसका हिस्सा रत्ना पाठक भी होती हैं। फिल्म का निर्देशन जफर है ने किया था। द परफेक्ट मर्डर भारत के साथ साथ इंग्लैंड में भी रिलीज हुई थी।
Sarabhai vs Sarabhai
4 of 11
किरदार- माया साराभाई
टीवी सीरीज- साराभाई वर्सेस साराभाई (2004-2006)

यह एक अमीर गुजराती परिवार की कहानी है जोकि महंगे अपार्टमेंट में रहते हैं। वह अपने पति इंद्रवर्द्धन साराभाई (सतीश शाह) और अपने छोटे बेटे के साथ रहती है वहीं बड़ा बेटा अपनी पत्नी के साथ कॉरिडोर के दूसरी तरफ रहता है। यह टीवी शो लोगों को खूब पसंद आया। शो में समय समय पर होने वाले टकराव पसंद किए गए। रत्ना पाठक ने इस शो में अमीर औरत का किरदार अदा किया है जो काफी चर्चा में रहा। इस शो ने रत्ना पाठक को खूब शोहरत दिलाई। यह शो लोगों की पंसदीदा लिस्ट में इस कदर शुमार रहा कि मेकर्स इसका दूसरा सीजन भी ले आए।
विज्ञापन
विज्ञापन
ratna pathak shah
5 of 11
किरदार- सविता राठौ़र
फिल्म- जाने तू जाने ना (2008)

रत्ना पाठक की यह सर्वश्रेष्ठ फिल्मों में से एक है। फिल्म में उन्होंने सविता राठौर का किरदार निभाया है जो अमर सिंह राठौर (नसीरुद्दीन शाह) की पत्नी होती है। हालांकि एक पारिवारिक कलह में अपने पति को खोने के बाद वह अपने बेटे जय (इमरान खान) को लेकर शहर आ जाती है। वह अपने बेटे को कभी भी उसकी असलियत या फिर उसके पारिवारिक पृष्ठभूमि के बारे में नहीं बताती हैं। फिल्म में वह एक समाज सेविका भी होती हैं। रत्ना पाठक की अदाकारी इस फिल्म में काफी सराहनीय रही है। खास तौर पर वह जिस तरह से अपने बेटे से सच्चाई छुपाती है वह देखते ही बनता है। फिल्म का निर्देशन अब्बास टायरवाला ने किया है।
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें मनोरंजन समाचार से जुड़ी ब्रेकिंग अपडेट। मनोरंजन जगत की अन्य खबरें जैसे बॉलीवुड न्यूज़, लाइव टीवी न्यूज़, लेटेस्ट हॉलीवुड न्यूज़ और मूवी रिव्यु आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00