'My Result Plus

'पीरियड्स के दर्द से भी बड़ा होता है हर महिला के लिए वो दर्द…'

लाइफस्टाइल डेस्क, अमर उजाला Updated Wed, 18 Apr 2018 10:02 AM IST
Menstruation cramps are less painful than the pressure of being a mother
ख़बर सुनें

पीरियड्स का दर्द शुरू होने के साथ ही मेरे मन में एक धक्क सी हो जाती थी। ओह! इस बार भी मिस कर गई... अब सुबह बताना होगा और फिर वही कई दिनों तक तानों का सिलसिला शुरू हो जाएगा। वो ताने, वो बातें जिनका जवाब नहीं दे सकते, जिनके लिए जिम्मेदार भी नहीं फिर भी सुनने होंगे और हर बार सुनने होंगे। शादी के कुछ महीनों बाद ही मुझे इन उलझन और तकलीफ भरे हालातों से गुजरना पड़ा था। हर महीने के पीरियड्स और बच्चा न होने को लेकर दिल चीरती हुई बातें हर रोज की बात हो गई थी। लाचारी तो ये थी कि न मैं पीरियड्स रोक सकती थी और न ताने।

शादी को एक महीना बीता था। मैं एक दिन सास के साथ रसोई में काम कर रही थीं। तभी सास ने बोला, "अब बच्चे के बारे में भी सोचो। फिर उम्र निकल जाएगी।"इतनी जल्दी मैंने बच्चे के बारे में सोचा नहीं था पर फिर भी पहली बार तो मैंने इस बात को मुस्कुराकर टालने की कोशिश की। जब उन्होंने दूसरी बार बोला तो मैंने 'हां सोचते हैं' बोलकर बात टाल दी। तब मुझे लगा कि घर के बड़े तो ऐसा बोलते ही हैं। लेकिन, धीरे-धीरे ये बात आए दिन का किस्सा होने लगी। यहां तक कि वो कई बार बातों-बातों में प्रीकॉशन न लेने की सलाह भी देने लगीं।

निजी जिदंगी में ये उनका बार-बार का दखल मुझे बिल्कुल अच्छा नहीं लगता था। जिस दिन उन्होंने पहली बार प्रीकॉशन पर सलाह दी थी तो मुझे बहुत अजीब लगा। मेरे संबंध कैसे हों इस पर कोई कैसे बोल सकता है। ये मेरा निजी मामला था और इस पर बात करते मैं असहज हो जाती थी।

आगे पढ़ें

पीरियड निशाना बन गए

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News App अपने मोबाइल पे|
Get all update about cricket news, Entertainment news, bollywood news, fitness news in hindi. Stay updated with us for all breaking hindi news.

Spotlight

Most Read

Relationship

भावनाओं का ख्याल करते हैं तो आपके लिए फायदेमंद है यह खबर, जरूर पढ़ लें

भावनाएं आपको उन चीजों को करने के लिए प्रेरित करती हैं, जो आपको स्वस्थ्य और सुरक्षित रखती हैं।

9 मार्च 2018

Related Videos

VIDEO: भाषण के दौरान ही भड़क गए नीतीश कुमार, देखिए वजह

बिहार के दरभंगा जिले में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उज्जवला योजना के दूसरे चरण का शुभारंभ किया। इस दौरान नीतीश कुमार को गुस्सा आ गया। धर्मेंद्र प्रधान ने भी इस दौरान भारत के विकास मॉडल की तारीफ की

20 अप्रैल 2018

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen