विज्ञापन
विज्ञापन

घर में बना ये कफ सिरप सुस्ती करेगा छूमंतर

टीम डिजिटल/अमर उजाला Updated Thu, 23 Jun 2016 03:05 PM IST
home remedies for cough syrup
- फोटो : getty images
ख़बर सुनें
सर्दी जुकाम के साथ कई बार खांसी भी हो जाती है। तब कई तरह के कफ सिरप पर खर्चा किया जाता है जिससे खांसी जाए या ना जाए लेकिन दिनभर की सुस्ती हो जाती है इन कफ सिरप से। ऐसे में अगर  सुस्ती से बचना है तो घर में बने कुछ घरेलू कप सिरप का प्रयोग करें। 
विज्ञापन
घर में खांसी दूर करने के लिए कफ सिरप बनाना है तो अदरक से बढ़िया कुछ नहीं । अदरक के टुकड़े कर लें। नींबू के छिलके को कस लें और इन दोनों को एक कप पानी में डालें। एक चौथाई अदरक के साथ 2 चम्मच नींबू के छिलके को उबालें। इस मिश्रण को छान लें और अलग कर लें। इसके बाद शहद को बिना उबालें थोड़ा सा गर्म करें और अदरक के मिश्रण को इसमें मिलाएं, साथ ही नींबू भी निचोड़े और इसें कुछ मिनट के लिए उबालें। उबालने के बाद इसे एक जार में भर लें। 


इसके अलावा एक और आसान घरेलू कफ सिरप बनाया जा सकता है। एक कप ग्लिसरीन लें, उतनी ही मात्रा में शहद और नींबू का रस मिलाएं और इन्हें मिलाए और एक जार में भर के रख लें। ये कफ सिरप कुछ महीनों तक प्रयोग में लाया जा सकता है। 
विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें  लाइफ़ स्टाइल से संबंधित समाचार (Lifestyle News in Hindi), लाइफ़स्टाइल जगत (Lifestyle section) की अन्य खबरें जैसे हेल्थ एंड फिटनेस न्यूज़ (Health  and fitness news), लाइव फैशन न्यूज़, (live fashion news) लेटेस्ट फूड न्यूज़ इन हिंदी, (latest food news) रिलेशनशिप न्यूज़ (relationship news in Hindi) और यात्रा (travel news in Hindi)  आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़ (Hindi News)।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

आंखों से रोशनी जाने पर भी नहीं टूटे सपने, कानपुर के अवधेश कुमार ने पास की पीसीएस परीक्षा

चार साल पहले एक बीमारी की वजह से कानपुर के अवधेश कुमार कौशल की आंखों की रोशनी चली गई, मगर उन्होंने हार नहीं मानी और कड़ी मेहनत और जुनून से पीसीएस अधिकारी बनकर ही माने।

14 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree