विज्ञापन
विज्ञापन

युवाओं पर भी स्ट्रोक का खतरा

उमाशंकर मिश्र /अमर उजाला दिल्ली Updated Sat, 01 Nov 2014 01:00 PM IST
risk of stroke in youth
ख़बर सुनें
कुछ समय पूर्व नई दिल्ली स्थित एम्स के न्यूरोलॉजी विभाग के एक सर्वे में पाया गया था कि स्ट्रोक के कारण मौत का शिकार बनने वाले 20 प्रतिशत लोगों की उम्र 40 साल से भी कम होती है। ऐसे में यह समझना जरूरी है कि आखिर स्ट्रोक के मामले क्यों बढ़ रहे हैं और इनसे कैसे बचा जा सकता है।
विज्ञापन
20 साल पहले की तुलना में भारत में स्ट्रोक के मामलों में तीन गुना बढ़ोतरी हुई है। करोड़ों महिलाएं एवं पुरुष समान रूप से कार्डियोवस्कुलर खतरे की ओर लगातार बढ़ रहे हैं। समस्या की गंभीरता को देखते हुए 29 अक्तूबर को ‘वर्ल्ड स्ट्रोक डे’ घोषित किया गया है। अध्ययनों में यह बात साबित हो चुकी है कि दुनिया भर के युवाओं एवं मध्यम उम्र के लोगों में डायबिटीज, मोटापा और उच्च रक्तचाप जैसी बीमारियां स्ट्रोक को दावत देने का मुख्य जरिया बन रही हैं।
सिरदर्द और चक्कर आने जैसी समस्याओं को नजरअंदाज करना भी ठीक नहीं है। ऐसे कई लक्षण हो सकते हैं, जो आगे चलकर स्ट्रोक का कारण बन सकते हैं। लेकिन समय रहते इन लक्षणों को पहचानकर काबू कर लिया जाए, तो स्ट्रोक के खतरे से बचा जा सकता है। लाइफस्टाइल में हेल्दी बदलाव करना इनमें सबसे ज्यादा अहम है।

क्या होता है स्ट्रोक

स्ट्रोक मस्तिष्क की एक बीमारी है, जो दिमाग में रक्त की नलियों के खराब होने से होती है। हृदय और मस्तिष्क के बीच रक्त प्रवाह बनाए रखने वाली इन नलियों में रक्त का थक्का जमने या फिर नस फटने से स्ट्रोक की समस्या होती है।

क्या हैं लक्षण
परंपरागत तौर पर स्ट्रोक को उम्रदराज लोगों से जोड़कर देखा जाता है और इसे याददाश्त में कमी आने का एक मुख्य कारण माना जाता है। शरीर के एक हिस्से में  कमजोरी या लकवा स्ट्रोक का सबसे अहम लक्षण है। इसके अलावा बोलने में परेशानी हो सकती है। सुन्न पड़ना या झुरझुरी पड़ना भी स्ट्रोक में सामान्य बात है। सांस लेने में भी परेशानी हो सकती है और मरीज अचेत भी हो सकता है।

कैसे हो बचाव
दिल्ली के मशहूर कार्डियोलॉजिस्ट डॉ. अमर सिंघल के मुताबिक वजन ज्यादा हो और उम्र 40 के करीब या इससे अधिक हो, तो रक्तचाप की जांच नियमित रूप से करानी चाहिए। ज्यादा फास्ट फूड खाना भी स्ट्रोक को दावत दे सकता है। अगर फैमिली हिस्ट्री रही है, तो स्ट्रोक के खतरे को लेकर ज्यादा सतर्क रहना चाहिए।  ज्यादा नमक खाना, एक्सरसाइज न करना, अत्यधिक शराब का सेवन, तनाव और पान चबाना भी स्ट्रोक का कारण बन सकता है। डायबिटीज के मरीजों को अपनी सेहत का खास ख्याल रखना चाहिए। तनाव से बचने के लिए मेडिटेशन और योगा करना बेहतर होगा।
विज्ञापन

Recommended

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019
Astrology Services

महालक्ष्मी मंदिर, मुंबई में कराएं दिवाली लक्ष्मी पूजा : 27-अक्टूबर-2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें  लाइफ़ स्टाइल से संबंधित समाचार (Lifestyle News in Hindi), लाइफ़स्टाइल जगत (Lifestyle section) की अन्य खबरें जैसे हेल्थ एंड फिटनेस न्यूज़ (Health  and fitness news), लाइव फैशन न्यूज़, (live fashion news) लेटेस्ट फूड न्यूज़ इन हिंदी, (latest food news) रिलेशनशिप न्यूज़ (relationship news in Hindi) और यात्रा (travel news in Hindi)  आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़ (Hindi News)।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Relationship

एक किन्नर से शादी करने वाले मर्द की कहानी

मैं और निशा इस दस बाई दस फुट के कमरे में रहते हैं। रात को जब कमरे में हल्की रोशनी होती है तो दीवारों का ये केसरिया रंग मुझे अच्छा लगता है। हमारे पास एक ढोलक है, एक बिस्तर और कोने में दुर्गा जी की ये मूर्तियां।

15 अक्टूबर 2019

विज्ञापन

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने कैलाश विजयवर्गीय और हेमा मालिनी पर दिया बेतुका बयान

मध्य-प्रदेश सरकार में मंत्री पीसी शर्मा ने सड़कों के बहाने कैलाश विजयवर्गीय और भाजपा सांसद हेमा मालिनी को लेकर बेतुका बयान दिया है।

15 अक्टूबर 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree