बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

शोध: चावल से बनी कोई भी चीज बच्चों को खिलाने से बचें, है खतरनाक

टीम डिजिटल/अमर उजाला Updated Fri, 29 Apr 2016 12:30 PM IST
विज्ञापन
rice can harm your child's health
- फोटो : getty images
ख़बर सुनें
चावल हर जगह ही बच्चों के पहले भोजन के तौर पर खिलाया जाता है। ये मानकर कि ये बहुत पौष्टिक और पेट भरने वाला होगा। लेकिन एक शोध में सामने आया है कि बच्चों को चावल खिलाने से यूरीन में ऑरसेनिक का स्तर बढ़ जाता है। पहले के शोध बताते हैं कि यूरीन में ऑरसेनिक का स्तर बढ़ने से बच्चें का इम्यूनिटी कमजोर हो जाती है जिससे वो जल्दी-जल्दी बीमारा पड़ने लगता है। इसके अलावा दिमाग के विकास पर भी असर पड़ता है। 
विज्ञापन


अमेरिका के डार्टमाउथ यूनिवर्सिटी के शोध में सामने आया है कि जो बच्चे जन्म के पहसे साल में चावल या चावल से बनी चीजें खाते हैं उनके यूरीन में ऑर्सेनिक का स्तर बढ़ जाता है। 2011 से 2014 तक किे गए इस शोध में 759 बच्चों को शामिल किया गया है। इन सभी बच्चों पर फोन इंटरव्यू के जरिए अगले 12 महीने तक हर चार महीने बाद नजर रखी गई। इसमें सफेद चावल और ब्राउन राइस दोनों को शामिल किया गया है। 


2013 में बच्चों के यूरीन के सैम्पल लिए गए जिसमें साथ ही पिछले 3 दिन के खाने का भी रिकार्ड भी रखा गया। जिसमें पाया गया कि आर्सेनिक का स्तर उन बच्चों की अपेक्षा ज्यादा पाया गया जो जन्म के पहले साल में चावल नहीं खाते थे। 

एक बात और सामने आई कि चावल से बने अनाज खाने वाले बच्चों के यूरीन में ज्यादा आर्सेनिक पाया गया बजाए कि चावल के बने स्नैक्स खाने वालों में।
विज्ञापन
विज्ञापन

सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें  लाइफ़ स्टाइल से संबंधित समाचार (Lifestyle News in Hindi), लाइफ़स्टाइल जगत (Lifestyle section) की अन्य खबरें जैसे हेल्थ एंड फिटनेस न्यूज़ (Health  and fitness news), लाइव फैशन न्यूज़, (live fashion news) लेटेस्ट फूड न्यूज़ इन हिंदी, (latest food news) रिलेशनशिप न्यूज़ (relationship news in Hindi) और यात्रा (travel news in Hindi)  आदि से संबंधित ब्रेकिंग न्यूज़ (Hindi News)।  

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X