Hindi News ›   Uttar Pradesh ›   NDA Exam 2022: Now daughters will also be able to become officers in the army, when they will prepare for their NDA exam with success course-safalta

NDA Exam 2022: अब बेटियां भी बन सकेंगी सेना में अधिकारी, जब सफलता कोर्स से करेंगी अपने NDA एग्जाम की तैयारी

Media Solution Initiative Published by: पीआर डेस्क Updated Wed, 19 Jan 2022 11:55 AM IST

सार

संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जा रह NDA/NA I परीक्षा 2022 के लिए आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो गई है। इस परीक्षा के लिए आयोग ने आवेदन प्रक्रिया 22 दिसंबर 2021 से शुरू की थी और अभ्यर्थियों से 11 जनवरी 2022 तक आवेदन मांगे थे।
सेना में महिलाओं की भूमिका
सेना में महिलाओं की भूमिका - फोटो : सोशल मीडिया
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) के नेशनल डिफेंस एकेडमी एंड नवल एकेडमी (NDA & NA )  एग्जाम में जब से महिला उम्मीदवारों को शामिल किए जाने का ऐलान किया गया है तब से देश की बेटियों में खासा उत्साह देखने को मिल रहा है। यही नहीं वर्ष 2021 के एनडीए द्वितीय भर्ती में महिला कैंडिडेट्स ने बढ़चढ़ कर हिस्सा लिया, जिसके परिणामस्वरूप बेटियों ने अन्य रिजल्ट की तरह इसमें  भी शीर्ष स्थान पर कब्जा कर दिखाया। इन बेटियों में से कई का मानना है कि एनडीए एग्जाम की तैयारी के लिए सफलता का एनडीए फाउंडेशन बैच काफी बेहतर कोर्स है। साल 2022 की भर्ती में भी महिला उम्मीदवारों ने काफी संख्या में आवेदन किए हैं। वह भी अपनी तैयारी के लिए सफलता के स्पेशल बैच को ज्वॉइन कर सकते हैं। गौरतलब है कि राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (NDA) और नौसेना अकादमी (NA) I परीक्षा 2022 के लिए आवेदन प्रक्रिया समाप्त हो गई है और अब आवेदन करने वाले अभ्यर्थी इस परीक्षा की तैयारियों में जुट गए हैं। आधिकारिक अधिसूचना के मुताबिक लिखित परीक्षा का आयोजन 10 अप्रैल 2022 को किया जा सकता है। ऐसे में इसके लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों को अभी से NDA Online Coaching Classes- Join Now  को ज्वॉइन कर लेना चाहिए। सफलता के इस बैच की मदद से अब तक सैकड़ों अभ्यर्थी एनडीए एग्जाम क्रैक कर चुके हैं।  

विज्ञापन

इन जिलों की महिला अभ्यर्थी ले चुकी हैं NDA का बैच   

नेशनल डिफेंस एकेडमी एवं नवल एकेडमी की इस भर्ती में देशभर के भिन्न-भिन्न प्रदेशों में स्थित छोटे-छोटे जिलों, कस्बों, से सैकड़ों की संख्या में महिला उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा रहा है कि सफलता के इस स्पेशल कोर्स में अब तक कानपुर, लखनऊ, ओरई, मुजफ्फरनगर, सोनिपत, बिलासपुर, शिमला, दिल्ली, चण्डीगढ़, चरखारी दादरी, भिवानी, रिवाड़ी, भोपाल, नागौर, गाजियाबाद, हाथरस, अमेठी, आगरा, मेरठ, हरदोई जैसे अन्य कई छोटे-छोटे जिलों की रहने वाली बेटियों ने एनडीए का एग्जाम क्रैक करने के लिए एडमिशन लिया है और वह परीक्षा में सफल होकर भारतीय जल, थल व वायुसेना में अधिकारी बनने का ख्वाब पूरा करना चाहती हैं।   

बनाएं अपनी बेटी को सेना में ऑफिसर 

अगर आप भी अपनी बेटी को भारतीय सेना में अधिकारी बनता हुआ देखना चाहते हैं तो उन्हें भी एनडीए भर्ती में शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करें और सफलता के खास एनडीए/एनए एग्जाम कोर्स बैच को ज्वॉइन कराएं। जहां बेटियों को घर बैठे लाइव क्लासेस की मदद से दिल्ली की एक्सपर्ट फैकल्टी से अपनी परीक्षा की पक्की एवं बेहतर तैयारी करने का मौका मिलेगा।
यह भी पढ़ें:     
NDA सैलरी     
NDA सिलेबस    
NDA एलिजिबिलिटी    
NDA मॉक टेस्ट: एटेम्पट करें

किन पदों पर होता है सिलेक्शन 

इस परीक्षा में चयनित होकर आर्मी विंग में जाने वाले कैडेट्स को पहले राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में 3 साल की पढ़ाई और ट्रेनिंग दी जाती है और फिर इसके बाद एक साल की ट्रेनिंग के लिए इंडियन मिलिट्री एकेडमी में भेज दिया जाता है। यहाँ से ट्रेनिंग पूरी करने के बाद कैडेट्स को भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट के पद पर कमीशन दिया जाता है। लेफ्टिनेंट के पद के बाद कैडेट्स सेना में कैप्टेन, मेजर, लेफ्टिनेंट कर्नल, कर्नल, ब्रिगेडियर, मेजर जनरल,लेफ्टिनेंट जनरल तथा जनरल के पद तक जा सकते हैं। ये पद बढ़ते हुए क्रम में दिए गए हैं जिसमें से सेना में जनरल का पद सबसे ऊपर आता है।

समाज में सम्मान के साथ-साथ मिलता है आकर्षक वेतन 

NDA में चयनित होने के बाद सैन्यबलों में अफसर के पद पर कमीशन प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों को काफी शानदार सैलरी मिलती है। हालांकि, अभ्यर्थियों को कमीशन प्राप्त करने के लिए पहले 4साल की पढ़ाई और ट्रेनिंग से गुजरना होता है। इस दौरान पहले 3 साल में अभ्यर्थियों को कोई सैलरी या स्टाइपेंड नहीं मिलता है। 3 साल की अवधि पूरा करने के बाद कैडेट्स को 1 साल तक IMAसे ट्रेनिंग करनी होती है। इस दौरान कैडेट्स को 56,100रुपये प्रतिमाह स्टाइपेंड के रूप में प्रदान किये जाते हैं। ट्रेनिंग के बाद कैडेट्स को सेना मेंलेफ्टिनेंट के पद पर कमीशन दिया जाता है और उन्हें दसवें(10) पे लेवल के अनुसार 56,100रुपये से 1,77,500 रुपए तक की सैलरी मिलती है। सैलरी के साथ इन्हें सैन्य सेवा वेतन (MSP) के रूप में 15,500 रुपये की अतिरिक्त राशि तथा अन्य कई तरह के लाभ एवं भत्ते भी मिलते हैं।

NDA आवेदकों में हर तीसरा आवेदन एक महिला का

आगे पढ़ें 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

 रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00