लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Jammu and Kashmir ›   food crisis in srinagar due to curfew

श्रीनगर में खाने के पड़े लाले, संकट मोचक बने मोहल्ला कमेटियों के वालंटियर

अमृतपाल सिंह बाली, अमर उजाला श्रीनगर Updated Sat, 23 Jul 2016 01:00 PM IST
food crisis in srinagar due to curfew
- फोटो : Amar Ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें

सरकारी दावे तो बहुत हैं लेकिन खाने पीने के फिर भी लाले हैं। कर्फ्यू की पाबंदियों के बीच अस्पतालों से लेकर टूरिस्ट रिसेप्शन सेंटर और गली मोहल्लों में फंसे बाहरी इलाकों के लोगाें को खाना मयस्सर नहीं हो रहा। घाटी में जरूरतमंद लोगाें, खासकर फ्लोटिंग पॉपुलेशन (प्रवासी जनसंख्या) के सामने खड़े दो जून की रोटी के इस संकट में मोहल्ला कमेटियों के वालंटियर संकट मोचक साबित हो रहे हैं। 



श्रीनगर शहर सहित आसपास के इलाकों में दर्जनों की तादाद में मोहल्ला कमेटियाें के लंगर सक्रिय हो गए हैं। बाकायदा चंदा एकत्रित हो रहा है। खाने का सामान जुट रहा है। खाना लजीज बने इसका भी ख्याल रखा जा रहा है। 


बनने के बाद खाने की पैकिंग और कर्फ्यू की पाबंदियों में फंसे लोगाें तक डिलीवरी पहुंचाने के लिए मोहल्ला कमेटियाें के वालंटियराें का नेटवर्क संगठित होकर काम कर रहा है। कर्फ्यू की पाबंदियाें को दो हफ्ते हो गए हैं। 

टीआरसी में जरूरतमंदाें को डिलीवर हो रहा पैक्ड फूड 

srinagar
srinagar - फोटो : Amar Ujala
कर्फ्यू के शुरुआती दिनों में तो जैसे तैसे काम चल गया लेकिन आवाजाही पर पाबंदिंयां कड़ी होने से खाने पीने का सामान मिलना मुश्किल हो गया। राजबाग मोहल्ला कमेटी के सदस्य जहूर अहमद ने बताया मोहल्ले के लोगाें ने मिलकर कमेटी बनाने का फैसला किया जो पिछले एक हफ्ते से दिन रात काम पर लगी है। 

श्री महाराजा हरि सिंह अस्पताल, बोन एंड जायंट अस्पताल, शेरे कश्मीर इंस्टीट्यूटी आफ मेडिकल साइंसेज, लाल चौक स्थित टूरिस्ट रिसेप्शन सेंटर में कई जरूरतमंदों को खाने पीने का सामान लेने में दिक्कतें हो रही हैं। राजबाग जैसे ही कई अन्य मोहल्लों में कमेटियां जरूरतमंदाें को खाना पहुंचा रही हैं। 

रोजाना तीन से चार हजार लोगाें तक खाना पहुंचाने में लगे वालेंटियर खाना पैक कर अपने वाहनाें में अलग अलग इलाकों तक पहुंचा रहे हैं। वाहनों पर मोहल्ला कमेटी के बैनर लगे देख कर्फ्यू में उन्हें छूट भी मिल रही है।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00