लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Rajasthan ›   Jaipur News ›   Rajasthan got opportunity to host Jamboree after 67 years Events will be held in Pali from January 4

Rajasthan: 67 साल बाद जम्बूरी की मेजबानी का अवसर, पाली में होगा आयोजन, 35 हजार स्काउट एवं गाइड लेंगे हिस्सा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जयपुर Published by: अरविंद कुमार Updated Fri, 14 Oct 2022 07:56 AM IST
सार

राजस्थान को 67 साल बाद जम्बूरी की मेजबानी का अवसर मिला है। यहां राष्ट्रीय स्काउट एवं गाइड जम्बूरी 4 जनवरी 2023 से पाली जिले के रोहट में होगी। सीएम गहलोत ने जम्बूरी को लेकर किए जा रहे कार्यों की समीक्षा की।

सीएम गहलोत बैठक करते हुए
सीएम गहलोत बैठक करते हुए - फोटो : अमर उजाला
विज्ञापन

विस्तार

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पाली जिले के रोहट में 4 से 10 जनवरी 2023 तक होने जा रहे राष्ट्रीय स्काउट गाइड जम्बूरी की व्यापक तैयारियों का जायजा लेते हुए कहा, अंतर्राष्ट्रीय स्तर की यह जम्बूरी प्रदेश में स्काउट एवं गाइड का अब तक का सबसे बड़ा आयोजन होगा। 67 साल बाद इस जम्बूरी की मेजबानी का अवसर मिला है। सरकार इसके सफल आयोजन के लिए कोई कमी नहीं रखेगी।



गहलोत गुरुवार को मुख्यमंत्री कार्यालय पर राजस्थान राज्य भारत स्काउट्स एवं गाइड द्वारा आयोजित होने वाली 18वीं राष्ट्रीय स्काउट गाइड जम्बूरी की तैयारियों की समीक्षा बैठक को सम्बोधित कर रहे थे। गहलोत ने कहा, ऐसे आयोजनों से स्वास्थ्य, चरित्र, कला एवं कौशल, सेवा भावना तथा अनुशासन जैसे गुणों का विकास होता है। सामाजिक समरसता, सौहार्द सद्भावना और आपसी भाईचारे की भावना का भी संचार होता है। हमने ग्रामीण ओलंपिक खेलों का आयोजन भी इसी उद्देश्य के साथ करवाया था।


साथ ही उन्होंने कहा, विभिन्न देशों व राज्यों की संस्कृतियों को समझने का भी यह एक सुनहरा अवसर है। उन्होंने उम्मीद जताई कि इस जम्बूरी में भाग लेने वाले सम्भागी राजस्थान की मेहमान नवाजी की एक सुखद स्मृति लेकर लौटेंगे। मुख्यमंत्री ने प्रसन्नता व्यक्त की कि सभी विभागों के अधिकारी पूर्ण निष्ठा एवं समन्वयता के साथ इस जम्बूरी की तैयारियों में जुटे हैं। उन्होंने ऐरिना, सड़कें शामियाना मंच एवं हैलीपेड की पुख्ता व्यवस्था के साथ-साथ पेयजल, शौचालय एवं स्नानघरों, बिजली, आवास, राशन की पर्याप्त व्यवस्था और राज्यों के दलों के लिए आवागमन की व्यवस्था करने हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

कार्यों की गुणवत्ता की हो रही नियमित मॉनिटरिंग...
बैठक में बताया गया कि रीको, सार्वजनिक निर्माण और जलदाय विभाग के अधिकारियों द्वारा जम्बूरी स्थल पर चल रहे कार्यों को समयबद्ध पूर्णकर उनकी गुणवत्ता की नियमित मॉनिटरिंग की जा रही है। जोधपुर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड एवं बिजली विभाग द्वारा जम्बूरी के समय विद्युत की अबाधित आपूर्ति सुनिश्चित तथा चिकत्सा एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा 24 घण्टे आपातकालीन चिकित्सकीय सुविधाएं मुहैया करवाई जाएगी। जम्बूरी से पूर्व एवं जम्बूरी के दौरान विभिन्न माध्यमों द्वारा नियमित रूप से व्यापक प्रचार-प्रसार एवं जम्बूरी स्थल पर प्रदर्शनियां भी आयोजित होंगी। साथ ही, जम्बूरी स्थल पर प्रतिदिन राजस्थानी सांस्कृतिक कार्यक्रमों के आयोजन भी होंगे। शिक्षा विभाग द्वारा सम्भागियों के पंजीकरण की प्रक्रिया भी जारी है। साथ ही जम्बूरी स्थल पर अस्थाई पुलिस चौकी, यातायात व्यवस्था, नियमित पेट्रोलिंग एवं सीसीटीवी मॉनिटरिंग की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाएगी।


विज्ञापन

उल्लेखनीय है कि राजस्थान राज्य भारत स्काउट एवं गाइड की मेजबानी में होने वाली 18वीं राष्ट्रीय जम्बूरी में 1500 विदेशी सहित पूरे देश से 35 हजार से अधिक स्काउट एवं गाइड हिस्सा लेंगे। पूर्व में मुख्यमंत्री ने जम्बूरी के आयोजन के लिए 24 करोड़ 70 लाख रुपये के वित्तीय प्रावधान को मंजूरी दी थी। इस 7 दिवसीय जम्बूरी में स्टेट द्वारा, पायनियरिंग प्रोजेक्ट, एडवेंचर वैली, ग्लोबल विलेज डवलपमेंट, इंटीग्रेशन गेम्स, मार्च पास्ट, कलर पार्टी, लोक नृत्य शारीरिक प्रदर्शन, राज्य दिवस प्रदर्शनी, बैंड प्रदर्शन, रॉक क्लाइंबिंग, पैरासेलिंग एवं वाटर एक्टिविटीज जैसी कई प्रतियोगिताओं का आयोजन होगा।

विश्वस्तरीय आयोजन से बढ़ेगी राज्य की ख्याति...
शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने कहा कि जम्बूरी स्थल पर सभी आवश्यक सुविधाओं का विस्तार समयबद्ध रूप से पूर्ण हो जाएगा। उन्होंने कहा कि इस आयोजन के लिए एक स्मारिका भी प्रकाशित की जाएगी। राजस्थान राज्य भारत स्काउट्स एवं गाइड के प्रधान व पूर्व शिक्षा राज्यमंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ने कहा कि मुख्यमंत्री के विजन के अनुरूप यह विश्व स्तरीय आयोजन हो रहा है। इससे राजस्थान की ख्याति देश ही नहीं विदेशों में भी बढ़ेगी। राजस्थान राज्य भारत स्काउट्स एवं गाइड के स्टेट चीफ कमिश्नर निरंजन आर्य ने प्रस्तुतीकरण द्वारा जम्बूरी के लिए किए जा रहे विभिन्न कार्यों की प्रगति की विस्तृत जानकारी दी।

बैठक में मुख्य सचिव उषा शर्मा, पुलिस महानिदेशक एमएल लाठर, अतिरिक्त मुख्य सचिव जलदाय विभाग सुबोध अग्रवाल, अतिरिक्त मुख्य सचिव शिक्षा विभाग पवन कुमार गोयल, अतिरिक्त मुख्य सचिव परिवहन अभय कुमार, रीको अध्यक्ष कुलदीप रांका, प्रमुख शासन सचिव वित्त अखिल अरोरा, प्रमुख शासन सचिव सार्वजनिक निर्माण विभाग नवीन महाजन, प्रमुख शासन सचिव यूडीएच कुंजीलाल मीणा, प्रमुख शासन सचिव पर्यटन गायत्री राठौड़, सचिव पंचायती राज नवीन जैन तथा सचिव स्वायत्त शासन डॉ. जोगाराम व सचिव चिकित्सा विभाग डॉ. पृथ्वीराज ने सम्बन्धित विभागों द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में अवगत कराया। सार्वजनिक निर्माण मंत्री भजनलाल जाटव भी वीसी के माध्यम से बैठक से जुड़े।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00