डिजिटल दुनिया में निजता का अधिकार पूर्ण नहीं हो सकता : सुप्रीम कोर्ट

amarujala.com- presented by: संदीप भट्ट Published by: Updated Wed, 19 Jul 2017 09:29 PM IST
विज्ञापन
The right to privacy can not be fulfilled says Supreme Court on

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
हम डिजिटल दुनिया में रह रहे हैं। ऐसे में निजता का अधिकार ‘पूर्ण’ नहीं हो सकता है। इस पर तार्किक पाबंदियां लगाई जा सकती हैं। अगर हम निजता के अधिकार को मौलिक अधिकार करार देते हैं, तो समलैंगिकता के खिलाफ दिया गया हमारा आदेश दोषपूर्ण हो जाएगा।
विज्ञापन


ऐसें में कोई भी इसका हवाला देकर यौन प्राथमिकता को अपनी निजता बता सकता है। निजता मौलिक अधिकार है या नहीं, इस मसले का परीक्षण कर रही सुप्रीम कोर्ट की नौ सदस्यीय संविधान पीठ ने यह टिप्पणी की।


पीठ ने कहा कि निजता के अधिकार को परिभाषित करने के प्रयास में फायदे से ज्यादा नुकसान हो सकता है। जहां तक नागरिकों की निजी जानकारी के संरक्षण का सवाल है, तो इसके लिए वैधानिक तरीके अपनाए जा सकते हैं।

अगर निजता को परिभाषित करना जरूरी है, तब हम तार्किक पाबंदी के साथ इसका पैमाना तय कर सकते हैं, लेकिन क्या यह अतिरेक नहीं होगा कि हम राज्य को नीति बनाने से रोके। यौन प्राथमिकता भी निजता का अधिकार हो सकता है।

अगर हम इसे सही ठहराते हैं, तो नाज फाउंडेशन मामले में हमारे द्वारा समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी में रखने का फैसला दोषपूर्ण हो जाएगा। चीफ जस्टिस जे एस खेहर की अध्यक्षता वाली इस संविधान पीठ में जस्टिस जे चेलमेश्वर, एस ए बोबडे, आर के अग्रवाल, रोहिंगटन फली नरीमन, अभय मनोहर सप्रे, डी वाई चंद्रचूड़, संजय किशन कौल और एस अब्दुल नजीर शामिल हैं। याचियों की ओर से वरिष्ठ वकील गोपाल, सोली सोराबजी, श्याम दीवान और अरविंद दातार ने अपनी दलीलें पेश कीं। सुनवाई बृहस्पतिवार को भी जारी रहेगी।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

स्वतंत्रता के अधिकार में निहित है निजता

विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X