लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   Navy chief Admiral R Hari Kumar says efforts on to curd drug menace and INS Gomati decommissioned after service of 34 years

Indian Navy: नौसेना प्रमुख बोले- समुद्र से ड्रग तस्करी को रोकने के लिए प्रयास जारी, आईएनएस गोमती हुआ सेवामुक्त

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, कन्नूर/मुंबई Published by: गौरव पाण्डेय Updated Sat, 28 May 2022 10:09 PM IST
सार

नौसेना प्रमुख ने कहा कि हम अन्य सरकारी एजेंसियों के साथ सहयोग कर रहे हैं और ड्रग तस्करों का नेटवर्क खत्म करने के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है।वह कन्नूर में नौसेना एकेडमी में भारतीय नौसेना और भारतीय तटरक्षक के 250 कैडेट्स की पासिंग आउट परेड में शामिल होने और समीक्षा करने आए थे।

नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार
नौसेना प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार - फोटो : सोशल मीडिया
ख़बर सुनें

विस्तार

समुद्र में ड्रग्स (मादक पदार्थ) की जब्ती की बढ़ती घटनाओं के बीच भारतीय नौसेना के प्रमुख एडमिरल आर हरि कुमार ने शनिवार को कहा कि प्रतिबंधित पदार्थ अफगानिस्तान से आए हैं और इस 'खतरे' को रोकने के प्रयास जारी हैं। कन्नूर में नौसेना और भारतीय तट रक्षक के कैडेट्स की पासिंग आउट परेड के बाद मीडिया से बात करते हुए एडमिरल ने कहा कि अफगानिस्तान सरकार के टूटने और वहां तालिबान का कब्जा होने के बाद अवैध गतिविधियों में काफी तेजी आई है।



नौसेना प्रमुख ने कहा, 'ड्रग्स का खतरा अब गंभीर हो रहा है। अफगानिस्तान में तख्तापलट होने के बाद समुद्र के जरिए मछुआरों की नावों में ड्रग्स की तस्करी की जा रही है।' कुछ दिन पहले ही लक्षद्वीप के तट पर से भारी मात्रा में हेरोइन जब्त की गई थी, जिसकी अंतरराष्ट्रीय बाजार में कीमत 1500 करोड़ रुपये बताई जा रही है। भारतीय एजेंसियों ने 20 मई को अंतरराष्ट्रीय तस्करों के एक गिरोह को धर दबोचा था जब वह 218 किलो हेरोइन की तस्करी करने की कोशिश कर रहे थे। 


इसके अलावा भारतीय एजेंसियों ने पिछले साल गुजरात के तट पर भी इस तरह के गैरकानूनी कार्यों को अंजाम देने वाले गिरोह का भंडाफोड़ किया था। राजस्व खुफिया निदेशालय (डीआरआई) ने पिछले साल सितंबर में गुजरात के मुंद्रा बंदरगाह पर लगभग 2988.22 किलोग्राम हेरोइन ले जाने वाले दो कंटेनर जब्त किए थे। नौसेना प्रमुख ने कहा कि हम अन्य सरकारी एजेंसियों के साथ सहयोग कर रहे हैं और ड्रग तस्करों का नेटवर्क खत्म करने के लिए हर संभव कोशिश की जा रही है।

34 साल की सेवा के बाद आईएनएस गोमती सेवामुक्त
भारतीय नौसेना ने शनिवार को आईएनएस गोमती को डीकमीशन (सेवामुक्त) कर दिया। गोदावरी क्लास गाइडेड-मिसाइल फ्रिगेट यह जहाज 34 साल से सेवा में था। ऑपरेशन कैक्टस और रेनबो में तैनात किया गया यह जहाज मुंबई में नोसेना डॉकयार्ड पर सूर्यास्त के समय सेवामुक्त किया गया। जहाज की विरासत को लखनऊ में गोमती नदी के सुरम्य तट पर स्थापित किए जा रहे एक ओपन एयर संग्रहालय में सुरक्षित रखा जाएगा, जहां उसकी कई युद्ध प्रणालियों को प्रदर्शित किया जाएगा।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads
    News Stand

Follow Us

  • Facebook Page
  • Twitter Page
  • Youtube Page
  • Instagram Page
  • Telegram
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00