13,860 करोड़ रुपये का कालाधन रखने वाला कारोबारी बोला- यह रकम मेरी नहीं

टीम डिजिटल/अमर उजाला, नई दिल्ली Updated Sun, 04 Dec 2016 10:12 AM IST
it dept officials detain gujrat bussinessman mahesh shah who disclosed black money of rs13860 crores
- फोटो : ANI
विज्ञापन
ख़बर सुनें
आय घोषणा स्कीम के तहत 13,860 करोड़ रुपये की विशाल राशि का खुलासा करने वाले प्रॉपर्टी डीलर महेश शाह ने कहा है कि यह पैसा उनका नहीं है। यह जिन लोगों का है उनके नाम का खुलासा वह आयकर अधिकारियों के सामने करेंगे।
विज्ञापन


फरार चल रहे शाह ने नाटकीय तौर पर शनिवार को एक गुजराती चैनल के स्टूडियो में पेश होकर कहा कि उन्होंने अपने नाम से इतनी बड़ी राशि का खुलासा कुछ मजबूरियों और कमीशन कमाने के लिए किया था। उन्होंने कहा कि 13,860 करोड़ रुपये की जो राशि मैंने आईडीएस के तहत जमा की थी, वह मेरी नहीं थी। मैं उन लोगों के  नाम आयकर अधिकारियों को बताऊंगा, जिनका यह पैसा है। यह कई लोगों का पैसा है।


आयकर विभाग ने 29, 30 नवंबर और 1 दिसंबर को शाह के घरों और दफ्तरों पर छापे मारे थे। ये छापे 13,860 करोड़ रुपये की संपत्ति घोषित करने पर लगे टैक्स के तौर पर 1560 करोड़ रुपये की पहली किस्त जमा करने पर नाकाम रहने पर मारे गए थे।

शाह ने कहा कि मैंने जिन लोगों के पैसे आईडीएस के तहत घोषित किए थे वे आखिरी वक्त में पीछे हट गए थे। इसलिए मैं इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को टैक्स की पहली किस्त नहीं दे पाया। शाह ने कहा कि वह जल्दी ही सबका भांडा फोड़ देंगे। उन्होंने कहा मैंने गलती की है लेकिन अब सब कुछ खोल दूंगा।

शाह जैसे ही शनिवार को यह नाटकीय दावा करने चैनल पर आए कि यह रकम उनकी नहीं है, आयकर अधिकारियों ने स्टूडियो घेर लिया और पुलिस के सामने उनसे पूछताछ के लिए उन्हें ले गए। 

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00