मंत्रालय की इजाजत के बिना अधिकारी नहीं कर सकेंगे मीडिया से बात, सर्कुलर जारी

एजेंसी, नई दिल्ली Updated Wed, 08 Nov 2017 07:03 AM IST
Avoid interacting with media without permission I&B Ministry Tells Officials
स्मृति ईरानी (फाइल फोटो)
केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने अपने अंतर्गत आने वाले विभिन्न विभागों के अधिकारियों को बिना सक्षम प्राधिकारी की अनुमति के मीडिया से बातचीत करने से बचने को कहा है। इस संबंध में मंत्रालय की तरफ से एक सर्कुलर जारी किया गया है। 



सर्कुलर में उल्लेख किया गया है कि प्रेस, इलेक्ट्रोनिक और डिजिटल मीडिया को आधिकारिक सूचनाएं पीआईबी के जरिये ही मिलनी चाहिए। पिछले महीने जारी एक सर्कुलर के बारे में मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘मंत्रालय के नोटिस में यह आया है कि मंत्रालय/मीडिया यूनिट के कुछ अधिकारी बिना सक्षम प्राधिकारी की अनुमति के मीडिया से बातचीत करते हैं।’

यह पीआईबी की नियमावली को भी भेजा गया है जो सरकार की तरफ से मीडिया से बातचीत के लिए दिशानिर्देश देता है। 

पढ़ें- सरकारी चैनलों का जल्द होगा कायाकल्प, निजी चैनलों को टक्कर देने के लिए चार नए चैनल ला रही है सरकार

इसमें कहा गया है कि सिर्फ मंत्री, सचिव और अन्य विशेष अनुमति वाले अधिकारी ही मीडिया के प्रतिनिधियों को सूचना देंगे या उनसे संपर्क करेंगे। जो सर्कुलर मंत्रालय के सभी मीडिया इकाइयों और स्वायत्त संगठनों को भेजा गया है, में उल्लेख किया गया है कि प्रेस, इलेक्ट्रोनिक और डिजिटल मीडिया को आधिकारिक सूचनाएं पीआईबी के जरिये ही मिलनी चाहिए।

सरकार के अधिकारियों की तरफ से इसे रुटीन की कवायद बताई गई है। उनका कहना है कि ऐसे पत्र या सर्कुलर समय-समय पर जारी किए जाते रहते हैं।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

India News

मोदी को अपने PM पद का गुमान, 30 से अधिक पत्रों का नहीं दिया जवाब: अन्ना हजारे

भ्रष्टाचार रोधी आंदोलन के नायक अन्ना हजारे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाया है कि उन्हें अपने प्रधानमंत्री होने को लेकर गुमान हो गया है।

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: पद्मावत के विरोध में कहीं लहराई गईं तलवारें, तो कहीं दिखाई गईं लाठियां

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद फिल्म पद्मावत का विरोध खत्म होने के नाम नहीं ले रहा। यूपी, हरियाणा, राजस्थान, गुजरात के कई शहरों में राजपूत समुदाय के लोगों ने फिल्म का विरोध किया।

22 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper