लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

CBSE Practical Exam 2021: दसवीं-बारहवीं की प्रैक्टिकल परीक्षाएं 1 मार्च से, जरूर पढ़ें ये दिशा-निर्देश

एजुकेशन डेस्क, अमर उजाला Published by: ललित फुलारा Updated Fri, 12 Feb 2021 12:12 PM IST
सीबीएसई बोर्ड परीक्षा का कार्यक्रम
1 of 4
विज्ञापन
CBSE Practical Exam 2021: केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड दसवीं और बारहवीं कक्षा की प्रायोगिक विषयों की परीक्षाओं का आयोजन 1 मार्च से लेकर 11 जून के बीच करेगा। इसे लेकर बोर्ड ने सभी संबंद्ध स्कूलों को सर्कुलर जारी कर दिया है। जिसमें सभी स्कूलों को प्रोजेक्ट असाइनमेंट, इंटर्नल एसेसमेंट 11 जून तक पूरा करने के निर्देश दिए गए हैं। सभी स्कूलों को प्रैक्टिकल परीक्षाओं के अंकों को बोर्ड की वेबसाइट पर जल्द से जल्द अपलोड करना होगा। इसके साथ ही प्रैक्टिकल परीक्षाओं के लिए निर्देश भी जारी हुए हैं।

इसे भी पढ़ें-यूपी मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना 2021: पंजीकरण प्रक्रिया शुरू, बसंत पंचमी पर होगा शुभ मुहूर्त
 
सीबीएसई
2 of 4
दसवीं और बारहवीं कक्षा की प्रैक्टिकल परीक्षाओं के लिए जारी निर्देश में कहा गया है कि स्कूलों को प्रायोगिक या इंटर्नल एसेसमेंट के लिए निर्धारित अधिकतम अंकों का ध्यान रखना होगा। 10वीं व 12वीं के प्रैक्टिकल परीक्षाओं के  विभिन्न विषयों के लिए अधिकतम 20 अंक निर्धारित किए गए हैं। एनसीसी के लिए अधिकतम अंक 30 है। दसवीं और बारहवीं कक्षा की मुख्य परीक्षाएं 4 मई से शुरू होंगी और 10 जून तक सभी परीक्षाओं का समापन हो जाएगा।

विज्ञापन
CBSE
3 of 4
सीबीएसई की दसवीं और बारहवीं कक्षा की प्रैक्टिकल परीक्षाओं के दौरान कोरोना वायरस के लिए जारी सभी दिशा-निर्देशों का ध्यान रखना होगा। इसे लेकर सीबीएसई की तरफ से महत्वपूर्ण निर्देश भी जारी किए गए हैं। सभी स्कूलों के शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारियों के साथ ही विद्यार्थियों को भी इन नियमों का पूरी तरह से पालन करना होगा। 
विद्यार्थी (फाइल फोटो)
4 of 4
क्या हैं दिशा-निर्देश?
दसवीं और बारहवीं कक्षा के हर बैच की प्रायोगिक परीक्षा के बाद लैबोरेट्री को एक फीसदी सोडियम हाइपोक्लोराइट से सैनिटाइज करना होगा। सभी लैबों में सैनिटाइजर रहना चाहिए। इसके साथ ही ढके हुए कूड़ेदान होने चाहिए और समय-समय पर इनकी सफाई होनी चाहिए।  25 विद्यार्थियों के समूह को दो भागों बांटा जा सकता है। सभी छात्रों के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा और सुरक्षित शारीरिक दूरी बनानी होगी। अगर स्कूल कोरोना वायरस से बचाव के लिए जारी दिशा- निर्देशों का पालन नहीं करते हैं, तो उनके पर 50 हजार रुपये का फाइन लगेगा।

इसे भी पढ़ें-IGNOU: इग्नू ने इस पाठ्यक्रम में शुरू किया डिप्लोमा कार्यक्रम, 12वीं पास कर सकते हैं आवेदन
 
विज्ञापन
विज्ञापन
अगली फोटो गैलरी देखें
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?

सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें शिक्षा समाचार आदि से संबंधित ब्रेकिंग अपडेट।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00