नही यूज करेंगे तब भी लगेगा बिजली का बिल

अमर उजाला, नोएडा Updated Fri, 24 Jan 2014 01:39 PM IST
fix charge on electricity bill
हाईकोर्ट का फैसला आने के बाद अब उद्यमी बिजली बिल में फिक्स चार्ज पर आनाकानी नहीं कर पाएंगे। फिक्स चार्ज पर लंबे विवाद के बाद हाईकोर्ट ने अपने फैसले में फिक्स चार्ज को सही ठहराया है।

उद्यमियों को मांग के अनुसार 75 फीसदी पैसा निगम के पास जमा करना होगा। निगम ने अब आगे की रणनीति बनानी शुरू कर दी है।

नोएडा में सात हजार से ज्यादा औद्योगिक इकाईयां हैं। बिजली बिल में फिक्स चार्ज का उद्यमी विरोध करते रहे हैं। कोर्ट के फैसले के बाद फिक्स चार्ज पर निगम और उद्यमियों में चल रहा आरोप-प्रत्यारोप थम जाएगा।

यह भी पढ़ें:ये कैसी अंधेरगर्दी, करे कोई भरे कोई

सुपरिंटेंडिंग इंजीनियर अरविंद राजबेदी ने बताया कि फिक्स चार्ज टैरिफ का ही पार्ट है। फिक्स चार्ज ग्रिड से फैक्ट्रियों तक पहुंचने वाली लाइन के मेंटिनेंस पर खर्च होता है। उद्यमियों की मांग थी कि इस्तेमाल का बिल लिया जाए। वहीं, लाइन की देखरेख भी उन्हीं की जिम्मेदारी है।

राजबेदी का कहना है कि फिक्स चार्ज पर स्थिति साफ होने के बाद निगम रणनीति बनाएगा, जिसमें सभी उद्यमियों को इसकी जानकारी दी जाएगी। फिक्स चार्ज का आकलन डिमांड पर होता है। अगर कोई यूनिट एक हजार केवीए की मांग करती है तो उसे 75 फीसदी के हिसाब से भुगतान करना ही होगा। भले ही बिजली खपत उतनी हो या फिर नहीं।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

गुरुग्राम में धारा 144 लागू, ‘पद्मावत’ देखने जाने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

फिल्म 'पद्मावत' की रिलीज को लेकर हो रहे हिंसक प्रदर्शन और विवाद को देखते हुए गुरुग्राम में धारा 144 लगा दी गई है।

24 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper