लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Uttarakhand ›   Dehradun ›   Unlock-1 In Uttarakhand: Chardham yatra Will Start from 8th june with limited pilgrims

Unlock-1: उत्तराखंड में आठ जून के बाद शुरू होगी चारधाम यात्रा, सीमित संख्या में जाएंगे तीर्थयात्री

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Published by: अलका त्यागी Updated Wed, 03 Jun 2020 06:06 AM IST
सार

  • तैयारी में जुटी सरकार, बाहरी राज्यों से पर्यटकों के आने के लिए बसों के संचालन की अनुमति ले रही सरकार

Unlock-1 In Uttarakhand: Chardham yatra Will Start from 8th june with limited pilgrims
- फोटो : फाइल फोटो
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

अनलॉक-1 के दौरान उत्तराखंड में पर्यटन और धार्मिक गतिविधियों को खोलने की छूट मिलने के बाद प्रदेश सरकार चारधाम यात्रा शुरू करने की तैयारी में जुट गई है। आठ जून के बाद सरकार सीमित संख्या में चारधाम यात्रा को शुरू करेगी।



शासकीय प्रवक्ता एवं कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने कहा कि आठ जून से प्रदेश में चारधाम यात्रा को शुरू किया जाएगा। लेकिन यात्रा की शुरुआत सीमित संख्या से होगी। दूसरे राज्यों से बसों के संचालन की अनुमति मिलने के बाद चारधाम यात्रा को दूसरे राज्यों के पर्यटकों और तीर्थ यात्रियों के लिए खोला जाएगा।



कौशिक ने कहा कि प्रदेश सरकार कई राज्यों के साथ बसों के संचालन के लिए बातचीत कर रही है। दोनों राज्यों की आपसी सहमति के बाद ही बसों के संचालन का निर्णय लिया जाएगा। बता दें कि कोरोना महामारी के कारण प्रदेश के प्रसिद्ध धाम गंगोत्री, यमुनोत्री, केदारनाथ, बदरीनाथ के कपाट खुलने के बाद ही यात्रा का संचालन पूरी तरह से बंद है। चारधाम यात्रा शुरू होने से पर्यटन उद्योग से जुड़े व्यवसायियों को राहत मिलेगी।

तीर्थ पुरोहितों ने कहा- अभी कोरोना का खतरा, न शुरू करें चारधाम यात्रा

केदारनाथ के तीर्थ पुरोहितों ने जून माह में यात्रा संचालन की अनुमति नहीं देने की मांग की है। कहा कि कोरोना संक्रमण के बाद स्थिति सामान्य होने  पर ही यात्रा का संचालन किया जाए। उन्होंने प्रशासन से भगवान भैरवनाथ के मंदिर में यज्ञ-हवन की अनुमति देने की मांग की। इस मौके पर देवस्थानम बोर्ड को भंग करने समेत अन्य मांगों को लेकर डीएम को ज्ञापन सौंपा।

जिलाधिकारी वंदना सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई बैठक में तीर्थपुरोहितों ने कहा कि हो सके तो सितंबर माह के बाद यात्रा शुरू की जाए और धाम में  अपने भवनों व व्यवसायिक प्रतिष्ठानों को ठीक करने के लिए उचित समय दिया जाए। उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से उन्हें विश्वास में लिए बगैर देवस्थानम बोर्ड का गठन किया गया है, जो अनुचित है। सरकार की ओर से चारधामों में ऑनलाइन पूजा कराई जा रही है, जिससे उनके आर्थिक हित भी प्रभावित हो रहे हैं।
विज्ञापन

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00