विज्ञापन
MyCity App MyCity App

देहरादून: वन विभाग में अफसर बनाकर ठगी करने वाले दो दोस्त गिरफ्तार

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, देहरादून Updated Thu, 13 Feb 2020 08:59 AM IST
विज्ञापन
Two friends arrested for cheating by becomig as forest officers
- फोटो : प्रतीकात्मक तस्वीर
ख़बर सुनें
साइबर थाना पुलिस ने वन विभाग में नौकरी दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले दो दोस्तों को गिरफ्तार किया है। दोनों खुद को वन विभाग में अफसर बताते थे। आरोप है कि इन लोगों ने बेरोजगारों से करीब 25 लाख रुपये से अधिक की वसूली की है। आरोपियों ने कुमाऊं और गढ़वाल के युवकों को वन विभाग में ट्रेनिंग भी दिलाई थी। तलाशी में इनके पास से काफी संख्या में जाली नियुक्तिपत्र और वन विभाग के फर्जी लेटरपैड बरामद हुए हैं।
विज्ञापन
स्पेशल टास्क फोर्स की पुलिस उप महानिरीक्षक रिद्धिम अग्रवाल ने बताया कि साइबर थाने को छह दिन पहले शिकायत मिली थी कि कुछ लोग सोशल मीडिया के माध्यम से वन विभाग उत्तराखंड में विभिन्न पदों पर नियुक्ति दिलाने के नाम पर बेरोजगारों को ठग रहे हैं। इस मामले में वन विभाग के अधिकारी की तरफ से मुकदमा दर्ज कर इंस्पेक्टर पंकज पोखरियाल को विवेचना सौंपी गई। विवेचना के दौरान पता चला कि बेरोजगारों को नमामी गंगे, उत्तराखंड पावर कार्पोरेशन और वन विभाग में वन बीट अधिकारी, वन दरोगा, लोअर डिविजन क्लर्क, अकाउंटेंट आदि पदों पर भर्ती का प्रलोभन दिया जा रहा है।

आरोपी खुद को वन विभाग में बड़े पदों पर आसीन बताकर बेरोजगारों से तीन से पांच लाख रुपये वसूल रहे हैं। पुलिस ने जांच पड़ताल के बाद सरगना सुमितानन्द भट्ट निवासी ग्राम ककोला, रुद्रप्रयाग (हाल निवासी अजबपुर खुर्द नेहरू कालोनी) को गिरफ्तार कर लिया। एसटीएफ डीआईजी रिद्धिम अग्रवाल ने बताया कि तलाशी में आरोपी से वन विभाग में विभिन्न पदों के नियुक्तिपत्र, वन विभाग के फर्जी लेटरपैड, शैक्षिक प्रमाणपत्र, विभिन्न बैंकों के खातों से संबंधित चैक बुक, एटीएम कार्ड, डोंगल, रबर मुहर आदि बरामद हुए।

बताया कि इस धंधे में पौड़ी गढ़वाल निवासी विक्की सिंह राणा भी शामिल है, जिसने वानिकी में मास्टर डिग्री हासिल कर रखी है। उसे वन विभाग के बारे में अच्छी जानकारी है। साइबर थाना पुलिस ने इसी आधार पर विक्की सिंह राणा निवासी अमकोटी पौड़ी गढ़वाल (हाल निवासी ढालवाला, थाना मुनिकीरेती) को ऋषिकेश से गिरफ्तार किया।
विज्ञापन
आगे पढ़ें

खुद को प्रमुख और सहायक वन रक्षक बताते थे आरोपी

विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us