सातवीं की छात्रा ने पीएम मोदी को लिखा 'दर्दभरा' पत्र, वजह जान आप भी करेंगे सलाम

न्यूज डेस्क/अमर उजाला, रुद्रप्रयाग Updated Mon, 15 Jan 2018 08:49 AM IST
little girl emotional letter to pm modi for uttarakhand capital
कक्षा सात की छात्रा ने पीएम मोदी को एक ऐसा खत लिखा, जिसके शब्द आपके दिल को भी छू जाएंगे। आगे पढ़िए...

आदरणीय प्रधानमंत्री जी, मेरा पहाड़ दर्द से कांप रहा है, पलायन से गांव खाली हो रहे हैं। घरों की रखवाली के लिए बुर्जग रहे गए हैं। यहां के स्कूलों में मूलभूत सुविधाओं का टोटा है, जिस कारण छात्र-छात्राओं को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

सर, आप उत्तराखंड की राजधानी गैरसैंण बनवा दीजिए, जिससे पहाड़ के लोगों को जरूरी सुविधाएं मिल सके। ये शब्द, कनकचौंरी निवासी व नालंदा पब्लिक स्कूल, रुद्रप्रयाग में कक्षा 7वीं में पढने वाला आकांक्षा नेगी के हैं, जो उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लिखे पत्र में कहे हैं।

छात्रा ने प्रधानमंत्री को उत्तराखंड, खासकर पहाड़ के हालातों को रूबरू कराया है। कहा, कि आपने बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं और स्वच्छ भारत जैसे अभियान चलाकर आमजन में जागरूकता फैलाने का काम किया है। लेकिन पहाड़ में मूलभूत सुविधाएं नहीं होंने से लोग खासे परेशान हैं।

शिक्षा, स्वास्थ्य, संचार, सडक़, बिजली जैसे सुविधाएं मात्र खानापूर्ति साबित हो रहे हैं। कई दूरस्थ गांवों की बेटियों को प्राथमिक के बाद पढ़ाई छोडनी पड़ रही है। जून 2013 की केदारनाथ आपदा में बहे झूला पुलों का आज तक पुनर्निर्माण नहीं हो पाया है।
आगे पढ़ें

ताकि 'पहाड़' से रास्ते हों जाए आसान

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

आत्महत्या को फैशन मानते हैं इस राज्य के सीएम साहब

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ट्रांस्पोर्टर आत्महत्या मामले को लेकर एक विवादास्पद बयान दिया।

23 जनवरी 2018